अभी-अभी : मोदी को जबरदस्त झटका, गुजरात चुनाव से पहले सबसे बड़े नेता ने छोड़ा बीजेपी का साथ

0

अहमदाबाद। गुजरात चुनाव की तैयारियों के बीच बीजेपी को डबल झटके लगे हैं। पहले तो पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने कांग्रेस के साथ हाथ मिला लिया है। हार्दिक ने प्रेस कॉफ्रेंस कर कांग्रेस के साथ हुई डील का खुलासा किया। उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो आरक्षण पर बिल लाएगी। वहीं, टिकट बंटवारे को लेकर बीजेपी के एक बड़े नेता ने मोर्चा खोल दिया है। चुनाव में टिकट न मिलने पर वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद कांजी भाई पटेल और उनके बेटे सुनील पटेल ने बीजेपी छोड़ दी है।

यह भी पढ़ें : हार्दिक-राहुल की डील पक्की, गुजरात में कांग्रेस का ये फार्मुला देख उड़े बीजेपी के होश

बीजेपी विधायक शामजी चौहान ने भी पार्टी छोड़ने की धमकी दी है

कांजी असल में अपने बेटे सुनील पटेल को टिकट दिलाना चाहते थे लेकिन जब पार्टी ने उनकी नहीं सुनी तो उन्होंने बीजेपी से इस्तीफा दे दिया। सुनील पटेल अब निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे। वहीं, बीजेपी विधायक शामजी चौहान ने भी पार्टी छोड़ने की धमकी दी है। वह चोटिला विधानसभा सीट से विधायक हैं। दो दिन पहले घोषित बीजेपी की दूसरी सूची में चौहान सहित नौ मौजूदा विधायकों को टिकट नहीं दिया गया और नये चेहरों को लाया गया है।

यह भी पढ़ें : 2019 लोकसभा चुनाव में अगर कांग्रेस की हुई जीत, तो राहुल नहीं ये बनेंगे प्रधानमंत्री!

चौहान की जगह जिनाभाई देदवारिया को टिकट दिया गया है

चोटिला विधानसभा क्षेत्र के लिए चौहान की जगह जिनाभाई देदवारिया को टिकट दिया गया है। चौहान को मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने पिछले साल संसदीय सचिव नियुक्त किया था। चौहान ने कहा, एक व्यक्ति जिसने पार्टी हितों के खिलाफ काम किया और पिछले पांच साल में इसे तोड़ने की कोशिश की, उसे चुनाव लड़ने का अधिकार दिया गया है।

यह भी पढ़ें : गुजरात चुनाव में हार्दिक करने जा रहे हैं ये सबसे बड़ा ऐलान, राहुल भी हो जाएंगे हैरान

हार्दिक पटेल ने आज गुजरात चुनाव पर अपना रुख साफ कर दिया है

वहीं, पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने आज गुजरात चुनाव पर अपना रुख साफ कर दिया है। उन्होंने आज एक प्रेस कॉफ्रेंस करके बड़ा ऐलान किया है। हार्दिक पटेल ने कांग्रेस द्वारा दिए गए सकारात्‍मक समर्थन को सार्वजनिक करते हुए बताया कि आरक्षण पर कांग्रेस ने उनकी मांगों पर सहमति जतायी है। उन्होंने कहा कि सरकार बनी तो आरक्षण के लिए प्रस्ताव पास करवाएगी कांग्रेस। साथ ही हार्दिक ने कई आरोपों पर भी खुलकर बात की और बीजेपी पर हमला बोला। ये खबर बीजेपी को परेशान करने वाली है। गुजरात में पाटीदारों को बीजेपी का पक्का वोटर माना जाता है। अगर इस चुनाव में पाटीदार वोट बीजेपी से खिसक के कांग्रेस की तरफ चला गया तो पीएम मोदी के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है।

loading...
शेयर करें