फॉर्मर सीएजी Vinod Rai ने संजय निरुपम से मांगी लिखित माफ़ी !

नई दिल्ली : फॉर्मर कम्पट्रोलर एंड ऑडिटर जनरल ऑफ़ इंडिया Vinod Rai ने 2जी स्पेक्ट्रम मामले में मनमोहन सिंह का नाम शामिल न करने के लिए दबाव बनाने वालों में कांग्रेस नेता संजय निरुपम  के नाम के उल्लेख पर बिना शर्त उनसे माफी मांग ली है।

2014 में फॉर्मर सीएजी Vinod Rai ने अपनी किताब में आरोप लगाए थे।

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें राय ने अपनी किताब में निरुपम के नाम का ज़िक्र उन सांसदों के साथ किया था, जिन्होंने कैग की रिपोर्ट में मनमोहन सिंह का नाम नहीं लेने के लिए उन पर दबाव डाला था। पटियाला हाउस में मेट्रोपॉलिटन मैजिस्ट्रेट की अदालत ने राय की माफी स्वीकार करते हुए निरुपम का बयान दर्ज कर मामले का निपटारा कर दिया है।

निरुपम के वकील आर के हांडू ने बताया कि विनोद राय को मामले में बरी कर दिया गया है। चूंकि निरुपम ने उनकी माफी स्वीकार कर ली है, इसलिए उनका बयान दर्ज करने के बाद मामले का निपटारा कर दिया गया है। विनोद राय ने अपने हलफनामे में कहा कि मैंने अनजाने में और गलत तरीके से संजय निरुपम के नाम का ज़िक्र उन सांसदों में से एक के रूप में किया था, जिन्होंने लोकलेखा समिति की बैठकों में 2जी स्पेक्ट्रम पर कैग रिपोर्ट से तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का नाम बाहर रखने के लिए दबाव डाला था।

यह भी पढ़ें : आखिर क्या है Godrej Group के बटवारे की वजह ?

Related Articles