केजीएमयू के फॉर्मर डीन प्रोफेसर Dr.C.S.Saimbi को मरणोपरांत किया गया सम्मानित

लखनऊ : चार सितम्बर को करियर पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ डेंटल साइंसेज एंड हॉस्पिटल लखनऊ में श्री अजमत अली द्वारा आयोजित शिक्षक दिवस समारोह में प्रोफेसर Dr.C.S.Saimbi, फॉर्मर डीन केजीएमयू को मरणोपरांत एक प्रतिष्ठित मेमोरियल अवार्ड से सम्मानित किया गया।डॉ. सी.एस.सैंबी के बिहाफ पर उनकी पत्नी ने यह अवार्ड ग्रहण किया।  इस दौरान उनके कामों को याद करते हुए एक लेक्चर थियेटर का नाम  इस अद्भुत शख्सियत के नाम पर किया गया।

Dr.C.S.Saimbi को मिले अवार्ड की लिस्ट है बेहद लम्बी

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें मरहूम डॉ. सी.एस.सैंबी, एक बेहतरीन शिक्षक थे जिन्होंने अपनी ज़िंदगी के चार दशक शोध और शिक्षण में बिताये। एक पीरियोडॉन्टिस्ट के रूप में, अपने हुनर और मेहनत के बलबूते वह इस फील्ड के माहिरों में शुमार किये जाते थे।  उनका एक शानदार अकादमिक करियर था। वह दंत रोगों की रोकथाम में लोगों को जागरूक करने में अग्रणी थे।

एक पीरियोडॉन्टिस्ट होने के साथ साथ वह राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त शोधकर्ता भी थे। अपने करियर में कई अवार्ड्स पाने वाले डॉ. सी.एस.सैंबी पीएन विश्वविद्यालय और यूसीएलए विश्वविद्यालय, यूएसए से डब्ल्यूएचओ के तहत प्रतिष्ठित फैलोशिप के प्राप्तकर्ता भी थे। इसके अलावा उनके नाम पर भारत अमेरिका सहित पूरी दुनिया में तीन पेटेंट भी दर्ज हैं। उनकी काबिलियत का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है इतनी ज़िम्मेदारियों के बोझ के बावजूद उन्होंने पुस्तकों में कई अध्याय लिखे और उनके नाम पर अस्सी से अधिक प्रकाशन दर्ज हैं। इस के साथ साथ उन्हें रोहिलखंड डेंटल कॉलेज द्वारा लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से भी नवाज़ा गया था।

उनको मिले अवार्ड्स की फेहरिस्त में इंडियन सोसाइटी ऑफ पीरियोडोंटोलॉजी द्वारा अलारसिन अवार्ड,साल 2008 में मिली वर्ल्ड पीरियोडॉन्टिक्स साइंटिस्ट’ की उपाधि,पंजाब सरकार की तरफ से मिला श्री गुरु नानक देव जी अचीवर पुरस्कार जैसे कई नायब अवार्ड्स शामिल है।

यह भी पढ़ें : “बायोलॉजिकल इ” की Corbevax के ट्रायल को सरकार की मंजूरी

Related Articles