पूर्व DUSU अध्यक्ष शक्ति सिंह ने थामा बीजेपी का दामन, अलका लांबा के खिलाफ लड़ सकते हैं चुनाव

0

दिल्ली चुनाव से ठीक पहले एबीवीपी से दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संगठन के पूर्व अध्यक्ष शक्ति सिंह बीजेपी में शामिल हों गये है. ऐसा माना जा रहा है कि बीजेपी शक्ति सिंह को दिल्ली की तिमारपुर या फिर चांदनी चौक से चुनाव लड़ा सकती है.

दिल्ली विधानसभा चुनाव के मद्देनजर 22 साल से दिल्ली की सत्ता से दूर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) इस बार तैयारी में किसी प्रकार का कसर नहीं छोड़ना चाहती है, इसलिए एक-एक सीट को लेकर काफी माथापच्ची भी चल रही है. चुनाव से ठीक पहले एबीवीपी से दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संगठन के पूर्व अध्यक्ष शक्ति सिंह बीजेपी में शामिल हो गये है.

माना जा रहा है कि बीजेपी शक्ति सिंह को दिल्ली की तिमारपुर या फिर चांदनी चौक विधानसभा से चुनाव लड़ा सकती है. वैसे शक्ति सिंह  के अध्यक्ष के आलावा उपाध्यक्ष पद पर भी रह चुके हैं.

अलका के खिलाफ चुनाव लड़ा सकती है बीजेपी

बता दें कि बीजेपी, दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संगठन के कई पूर्व अध्यक्षों को विधानसभा चुनाव लड़ा चुकी है. इससे पहले नकुल भारद्वाज पटपड़गंज से चुनाव लड़ चुके हैं. इसके अलावा अनिल झा भी चुनाव लड़ चुके हैं और विधायक भी रह चुके हैं.

सूत्रों की मानें तो शक्ति सिंह वैसे तो तिमारपुर विधानसभा चुनाव से लड़ना चाहते हैं, लेकिन बीजेपी अलका लांबा के खिलाफ चुनाव लड़ाना चाहती है, क्योंकि अलका लांबा भी एनएसयूआई की तरफ से डूसू की पूर्व अध्यक्ष रह चुकी हैं और कांग्रेस चांदनी चौक से अलका लंबा को उम्मीदवार बना सकती है. बीजेपी के नेताओं का मानना है शक्ति सिंह के पीछे छात्रों की एक बड़ी टीम है, जो चुनाव जीतने में मददगार साबित हो सकती है.

loading...
शेयर करें