पूर्व वित्त मंत्री मानिक चंद सुराणा का 90 साल की उम्र में निधन

जयपुर: राजस्थान के पूर्व वित्त मंत्री मानिक चंद सुराणा का 90 साल की उम्र में उनका निधन हो गया। वे पहले कोरोना से पीड़ित थे लेकिन ठीक हो गए। इसके बाद उनका स्वास्थ्य फिर से खराब होने पर उन्हें एसएमएस अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। जहां पर उन्होंने अंतिम सांस ली।

पूर्व वित्त मंत्री मानिक चंद सुराणा कुछ दिनों से बीमार थे। कोरोना संक्रमित होने के बाद उन्हें जयपुर के एसएमएस अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां वह संक्रमणमुक्त हो गये, लेकिन अन्य बीमारियों के चलते उन्हें आईसीयू में भर्ती किया गया था।
उनकी पार्थिव देह को बीकानेर ले जाया जा रहा है। जहां गोगागेट स्थित ओसवाल श्मशान घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया जायेगा।

31 मार्च 1931 को जन्मे मानिक चंद सुराणा छात्र जीवन से ही राजनीति से जुड़े गये और डूंगर महाविद्यालय में अध्यक्ष बने। वर्ष 1962 में वह पहली बार कोलायत क्षेत्र से प्रजा सोशलिस्ट पार्टी की ओर से विधायक चुने गए। वर्ष 1977 में वह जनता पार्टी की ओर से लूणकरनसर से विधायक बने और भैरोसिंह शेखावत के मुख्यमंत्रित्व काल में 1980 तक वित्तमंत्री रहे। बाद में वर्ष 2000 में वह लूणकरनसर से वीरेंद्र बेनीवाल को हराकर पुन: विधायक चुने गए। वर्ष 2013 में भाजपा की ओर से टिकट नहीं मिलने पर वह निर्दलीय के रूप में लड़े और निर्वाचित हुए।

यह भी पढ़ें: 71 साल की उम्र में अहमद पटेल ने ली अंतिम सांस, दिग्गजों ने जताया शोक

Related Articles