पूर्व विदेश मंत्री और गुजरात (Gujarat) के चार बार मुख्यमंत्री रहे दिग्गज नेता का निधन

गुजरात के चार बार मुख्यमंत्री (Chief Minister) के अलावा केंद्र में मंत्री भी रह चुके सोलंकी पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी के पिता थे।

गांधीनगर: गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री, पूर्व केंद्रीय मंत्री (Former union minister) और वयोवृद्ध कांग्रेस नेता माधवसिंह सोलंकी का आज यहां निधन हो गया। वह 94 वर्ष के थे।

गुजरात के चार बार मुख्यमंत्री (Chief Minister) के अलावा केंद्र में मंत्री भी रह चुके सोलंकी पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी के पिता थे। उनके मुख्यमंत्रित्वकाल में ही कांग्रेस ने राज्य की 182 सदस्यीय विधानसभा (Assembly) में 149 सीटें जीतने का रिकार्ड बनाया था, जो आज तक राज्य में किसी एक दल के सर्वाधिक सीटें जीतने का एक कीर्तिमान है। सोलंकी ने आज सुबह यहां अपने आवास पर अंतिम सांस ली।

उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi), कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी समेत कई लोगों ने शोक व्यक्त किया है। गुजरात सरकार ने एक दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। मध्य गुजरात के आनंद ज़िले के बोरसद के मूल निवासी सोलंकी पहली बार 1977 में मुख्यमंत्री बने थे।

राज्य में कांग्रेस के पक्ष में क्षत्रिय, हरिजन, आदिवासी और मुस्लिम का कथित ‘खाम’ जातीय समीकरण बनाने और इसकी मदद से लम्बे समय तक पार्टी को ज़बरदस्त सफलता दिलाने वाले सोलंकी कुल मिला कर 4 बार मुख्यमंत्री रहे थे। उनका सर्वाधिक समय तक राज्य का मुख्यमंत्री रहने का रिकार्ड बाद में तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने तोड़ा था।

सक्रिय राजनीतिक जीवन के दौरान सोलंकी का विवादों से भी चोली दामन का नाता रहा था। 1992 में केंद्र की तत्कालीन नरसिंह राव सरकार में विदेशमंत्री (foreign Minister) के तौर पर स्विटज़रलैंड के दौरे में कथित बोफ़ोर्स घोटाले के बारे में उनके बयान से ख़ास राजनीतिक बवाल मचा था। पिछले कई वर्षों से वह यहां अपने आवास पर सादगीपूर्ण जीवन जी रहे थे।

यह भी पढ़े: डोनाल्ड ट्रम्प का ट्विटर एकाउन्ट (Twitter account) भी निलंबित

Related Articles

Back to top button