नहीं रहे तेलंगाना के पूर्व मंत्री कामतम राम रेड्डी, CM समेत कई नेताओं ने जताया शोक

पूर्व मंत्री कामतम राम रेड्डी का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वह 83 वर्ष के थे और वृद्धावस्था से सम्बंधित बीमारियों से पीड़ित थे।

हैदराबाद: तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) के नेता और पूर्व मंत्री कामतम राम रेड्डी का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वह 83 वर्ष के थे और वृद्धावस्था से सम्बंधित बीमारियों से पीड़ित थे। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव, विधानसभा अध्यक्ष पोचारम श्रीनिवास रेड्डी और अन्य राजनितिक पार्टियों के नेताओं ने पूर्व मंत्री के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

सीएम चंद्रशेखर राव ने अपने शोक सन्देश में कामतम राम रेड्डी के साथ अपने संबंधों को याद किया। और शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की।

बता दें कि कामतम राम रेड्डी शुरुआत में कांग्रेस से जुड़े हुए थे और कांग्रेस के अहम नेताओं में से एक थे। उन्होंने आंध्र प्रदेश की परगी विधानसभा सीट पर तीन बार चुनाव जीता। उन्होंने वर्ष 1967 में सबसे पहले निर्दलीय और वर्ष 1972 तथा 1989 में कांग्रेस के टिकट से विधानसभा का चुनाव जीता।

TRS नेता साल 1980 में विधान परिषद के सदस्य के रूप में भी चुने गए थे और वर्ष 1977 की जलागम वेंगल राव सरकार साल 1991 में नेदुरामल्ली जनार्दन रेड्डी और वर्ष 1992 में कोटला विजया भास्कर रेड्डी की सरकार में मंत्री रहे थे। रेड्डी वर्ष 2014 के चुनाव में कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने के बाद भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए थे। भाजपा की तरफ चुनाव में खड़े होकर उन्हें 13,355 वोट के साथ तीसरा स्थान हासिल हुआ था। वर्ष 2018 में वह टीआरएस में शामिल हो गए थे।

यह भी पढ़ें: ड्यूटी पर तैनात IAS अधिकारी का दिल का दौरा पड़ने से निधन, सीएम योगी ने जताया शोक

Related Articles

Back to top button