उत्तराखंड में चोरी के मामले में दिल्ली, बिहार, बंगाल और यूपी से चार गिरफ्तार, दो फरार

विगत 23 अक्टूबर को रात में चोरों ने रूद्रपुर के गंगापुर रोड स्थित उसके गोदाम से 87 पाइप चोरी कर लिये। जिनकी कीमत लगभग छह लाख रुपये आंकी गयी थी।

नैनीताल: उत्तराखंड की रूद्रपुर पुलिस ने चोरी के एक मामले का खुलासा करते हुए दिल्ली, बिहार, पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश के चार लोगों को गिरफ्तार किया है और उनसे छह लाख रुपये कीमत के 87 पाइप बरामद किये हैं। दो आरोपी अभी भी फरार हैं।

रूद्रपुर के ट्रांजिट थाना के प्रभारी ललित मोहन जोशी ने बताया कि बरेली निवासी शोभित कुमार की ओर से 24 अक्टूबर को एक तहरीर देकर कहा गया कि विगत 23 अक्टूबर को रात में चोरों ने रूद्रपुर के गंगापुर रोड स्थित उसके गोदाम से 87 पाइप चोरी कर लिये। जिनकी कीमत लगभग छह लाख रुपये आंकी गयी थी।

गिरफ्तार चार आरोपियों में से एक शातिर

पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। इस मामले के खुलासे के लिये पुलिस की टीमें गठित की गयीं। काफी खोजबीन के बाद पुलिस को कुछ तथ्य हाथ लगे जिस पर पुलिस ने जांच को आगे बढ़ाया। आखिरकार पुलिस को सफलता हाथ लगी और चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार आरोपियों में से एक शातिर अपराधी है और उस पर दो मामले पहले से दर्ज हैं।

उनके कब्जे से चुराए गए करीब छह लाख रुपये मूल्य के पाइप व चोरी में इस्तेमाल किए गए चोरी में इस्तेमाल किए गए कैंटर संख्या यूपी 16 बीटी 7077 बरामद किया है।

आरोपियों के नाम विकास चौहान उर्फ नाटू पुत्र तिलक राज चौहान, निवासी तोमर कालोनी बुराड़ी दिल्ली, मंजर आलम पुत्र मुजीब निवासी कामत पो. दूबा थाना जोकीहाट जिला अररिया बिहार, सलमान हलदार पुत्र अब्दुल हलदार निवासी मुशीहाट, बड़कचिया थाना हावड़ा, पश्चिम बंगाल, और जगदीश पाल पुत्र मेवा लाल, निवासी जलपुरा कुलसेरा तहसील दादरी ग्रेटर नोएडा उत्तर प्रदेश हैं। उन्होंने बताया कि दो आरोपी सोनू जोशी, कौशल्या एनक्लेव और बबलू निवासी बुराड़ी दिल्ली अभी भी फरार हैं।

पेयजल लाइन का ठेकेदार के गोदाम में की थी चोरी

ललित मोहन जोशी ने आगे बताया कि वादी शोभित कुमार की बरेली के नेहरू कालोनी में सिंघल फर्म के नाम से कंपनी है और उसे उधमसिंह नगर के काशीपुर में पेयजल लाइन का ठेका मिला था। इसी के मद्देनजर उसने रूद्रपुर स्थित गोदाम में पेयजल के बड़े पाइप एकत्र किये थे।

उन्होंने बताया कि आरोपियों ने चोरी की घटना को अंजाम देने से पहले गोदाम की रेकी की गयी और आधी रात में ट्रक में पाइप लादकर दिल्ली रवाना हो गये। उन्होंने बताया कि आरोपियों के पास से 87 पाइपों की बरामदगी की गयी है।

ये भी पढ़ें : कृषि कानून के खिलाफ पंजाब के मुख्यमंत्री का दिल्ली के राजघाट पर धरना

Related Articles

Back to top button