इन चार भारतीयों का स्विस बैंक में खाता, जारी हुई लिस्‍ट

0

utt-black money-1

नई दिल्‍ली। #BlackMoney मामले में मोदी सरकार ने अभी तक वादा नहीं निभाया। लेकिन स्विट्जरलैण्‍ड ने उन बैंक खातों को लिस्‍ट जारी कर दी है, जिन्‍हें 60 सालों से इस्‍तेमाल किया है। इन खातों में कम से कम चार नाम भारतीयों के हैं।

स्विट्जरलैण्‍ड सरकार के मुताबिक में 2600 से अधिक ऐसे निष्क्रिय खाते हैं, जिनकी लिस्‍ट उजागर की गई है। इन खातों में 44 मिलियन डॉलर यानी 300 करोड़ से अधिक राशि जमा है। हालांकि इसमें भारतीयों का कितना पैसा है, यह साफ नहीं हो पाया है। वहीं, 80 के करीब लॉकर बॉक्‍स ऐसे हैं, जिनके बारे में किसी तरह की जानकारी सामने नहीं आई है।

जिन चार भारतीयों के खातों की बात सामने आई है, उनसे से दो भारत में और एक प‍ेरिस में रहते हैं। चौ‍थे भारतीय का पता फिलहाल सार्वजनिक नहीं हो पाया है। भारत में रहने वाले दो लोग मुंबई और देहरादून के रहने वाले हैं। मुंबई के पियरे वाचेक और देहरादून के बहादुर चंद्र सिंह के खाते निष्क्रिय पाए गए हैं। वहीं, पेरिस में रहने वाले डॉक्‍टर मोहन लाल का खाता भी निष्क्रिय है। इनके अलावा किशोर लाल का नाम भी सामने आया है।

इस लिस्‍ट में जर्मनी, फ्रांस, यूके, यूएस, तुर्की, ऑस्ट्रिया समेत कई देशों के लोगों के खाते सार्वजनिक किए गए हैं।

स्विट्जरलैण्‍ड में पास हुए एक नए बिल के मुताबिक अगले साल जनवरी से लोग इन एकाउंट की डिटेल देख सकेंगे। स्विस बैंक के एक वरिष्‍ठ अधिकारी के मुताबिक नए कानून के कारण निष्क्रिय खातों की जानकारी सार्वजनिक की जा रही है।

पिछले महीने एचएसबीसी बैंक के पूर्व कर्मचारी और सचेतक हर्व फैल्सियानी ने कई खाते सार्वजनिक कर दिए थे। इनमें से कुछ खाते भारतीयों के बाद थे। फैल्सियानी को इस मामले में पांच साल की सजा मिली थी। छह साल पहले भी फैल्सियानी ने गुप्त खातों की एक सूची जारी की थी, जिसमें 600 नाम भारतीयों के थे। 

loading...
शेयर करें