सावन का चौथा सोमवार, आज करें इस मंत्र का जाप, टलेगा मौत का खरतरा

लखनऊ: महादेव का प्रिय महीना सावन का महीना चल रहा है। सावन के माह में हर सोमवार सभी शिव भक्त बेल पत्र, भांग, धतूरा, जल व दूध चढ़ाते है। पवित्र महीना सावन के तीन सोमवार गुजर चुके हैं और आज सावन का चौथा अंतिम सोमवार है। हिंदू मान्यताओं के अनुसार, सावन माह का चौथा सोमवार भगवान भोलेनाथ की पूजा अर्चना के लिए बेहद शुभ माना गया है। आज के दिन महामृत्युंजय मंत्र का जाप करना काफी फलदायक होता है।

महामृत्युंजय मंत्र का जाप आप वैसे तो रोज कभी भी कर सकते है लेकिन सावन के चौथे सोमवार को इस मंत्र का जाप करना जातक के लिए शुभकारी माना गया है। इस पूरी दुनिया में सुरभि फैलाने वाले भगवान शंकर हमें मृत्‍यु के बंधनों से मुक्ति प्रदान करें, जिससे कि हमें मोक्ष की प्राप्ति हो सके।

महामृत्युंजय मंत्र

ॐ हौं जूं सः ॐ भूर्भुवः स्वः ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् उर्वारुकमिव बन्धनान्मृ त्योर्मुक्षीय मामृतात् ॐ स्वः भुवः भूः ॐ सः जूं हौं ॐ.

कितनी बार करें मंत्र का जाप

ज्योतिष और पंडितों के अनुसार महामृत्युंजय मंत्र का जाप न्यूनतम सवा लाख बार करना चाहिए। अगर कोई जातक ऐसा नहीं कर पाता है तो वह कम से कम इस मंत्र का जाप 108 बार जरूर करे। अगर महामृत्युंजय मंत्र का सवा लाख बार जाप कर लिया जाए तो अकाल मृत्यु अर्थात समय से पहले होने वाली मौत का खतरा टल जाता है।

Related Articles