40 लाख से अधिक अन्त्योदय राशन कार्ड धारकों को 5 लाख तक की फ्री चिकित्सा सुविधा

लखनऊ: चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जय प्रताप सिंह ने आज बताया कि प्रदेश के 40 लाख से अधिक अन्त्योदय राशन कार्ड धारकों को सरकार प्रति-परिवार प्रति-वर्ष 5 लाख रूपये तक की निःशुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करायेगी। प्रदेश सरकार ने समाज के अंतिम पायदान पर खड़े अन्त्योदय कार्ड धारकों को भारत सरकार द्वारा संचालित ’’आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’’ की भॉति 5 लाख रूपये तक की निःशुल्क चिकित्सा सुविधा देने का निर्णय लिया है। अन्त्योदय राशन कार्ड धारकों का डाटा जुड़ जाने से प्रदेश के लगभग 40,79,598 परिवारों के 1,30,55,710 लाभार्थियों को भी ’’आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’’ के अन्तर्गत अनुमन्य सभी प्रकार के लाभ मिल सकेंगे। स्वास्थ्य मंत्री आज यहाँ लाल बहादुर शास्त्री भवन स्थित मीडिया सेंटर में प्रेस प्रतिनिधियों से जानकारी सांझा कर रहे थे।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में ’’आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’’ का शुभारम्भ 23 सितम्बर, 2018 को किया गया था। ’’आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’’ का लाभ एस0ई0सी0सी0-2011 की पात्रता सूची में चिन्हित 1.18 करोड़ परिवारों को मिल रहा था, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के प्रयासों से वर्ष 2019 में ’’मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान’’ के अन्तर्गत एस0ई0सी0सी0-2011 की पात्रता सूची से वंचित लगभग 8.43 लाख परिवारों को भी ’’आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’’ का लाभ दिया जाना संभव हो सका। अब तक दोनों योजनाओं को मिलाकर प्रदेश के 6.32 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को सूचीबद्ध सरकारी एवं निजी अस्पतालों में सेकेण्डरी एवं टर्शियरी स्तर की बीमारियों के निःशुल्क इलाज की सुविधा मिल रही है। अब अन्त्योदय राशन कार्ड धारकों का भी डाटा जुड़ने से प्रदेश के 1.67 करोड़  परिवारों के लगभग 7.62 करोड़ लाभार्थियों को 5 लाख रूपये तक की निःशुल्क चिकित्सा सुविधा का लाभ मिल सकेगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि गरीबों के लिये राज्य सरकार द्वारा लिये गये इस ऐतिहासिक निर्णय से प्रदेश के लगभग 40,79,598 परिवारों के 1,30,55,710 लाभार्थियों को भी ”आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना” के अन्तर्गत अनुमन्य सभी प्रकार के लाभ मिल सकेंगे। खाद्य एवं रसद विभाग द्वारा उपलब्ध कराये गये अन्त्योदय राशन कार्ड धारकों की सूची को हर 6 माह पर अद्यतन किया जायेगा, जिससे भविष्य में अन्त्योदय कार्ड धारकों की सूची में जुडने वाले लाभार्थियों को भी योजना का लाभ मिल सकेगा।
उन्होंने जानकारी दी कि प्रदेश के अन्त्योदय राशन कार्ड धारकों को ”आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना” के अर्न्तगत अनुमन्य सभी लाभ मिलेंगे। योजना का संचालन ”आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना” के प्लेटफार्म पर होगा।

लाभार्थी प्रदेश में सूचीबद्ध 2700 से भी अधिक सरकारी एवं निजी अस्पतालों में 5 लाख रूपये तक निःशुल्क इलाज की सुविधा ले पायेंगे। यह योजना पूरी तरह से कैशलेस है, अतः इलाज के दौरान लाभार्थी द्वारा अस्पताल को कोई भुगतान नहीं करना पडे़गा। लाभार्थी के इलाज पर होने वाले खर्च का भुगतान सरकार द्वारा सीधे अस्पतालों को किया जायेगा। देश के अन्य राज्यों में सूचीबद्ध चिकित्सालयों में भी निःशुल्क इलाज की सुविधा मिलेगी। योजनान्तर्गत कुल 1500 से भी अधिक पैकेजेस/प्रोसिजर सम्मिलित है, जिनमें कैंसर, ब्रेन ट्यूमर, ह्नदय रोग, मोतियाबिन्द, किडनी रोग एवं घुटना प्रत्यारोपड़ जैसी बीमारियों का भी इलाज सम्भव है।

चिन्हित परिवारों के सभी सदस्यों को योजना का लाभ मिलेगा और पूर्व से चली आ रही बीमारियों (च्तम चगपेजपदह कपेमेंमे) का इलाज भी कराना सम्भव है। लाभार्थी अपनी पात्रता की जांच उमतंण्चउरंलण्हवअण्पद वेबसाइट पर कर सकता है। लाभार्थी परिवारों को सूचीबद्ध निजी व राजकीय चिकित्सालयों एवं नजदीकी जन सेवा केन्द्रों पर निःशुल्क आयुष्मान कार्ड जारी किये जायेंगे। योजना के संदर्भ में टोल फ्री हेल्प लाइन नं0- 1800-1800-4444/14555 माध्यम से लाभार्थियों की शिकायतों एवं जिज्ञासाओं के समाधान की सुविधा उपलब्ध होगी।

ये भी पढ़ें : मीडिया से बोले Rahul Gandhi, ‘गृहमंत्री को देना चाहिए इस्तीफा और PM की होनी चाहिए जांच’

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और Youtube पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles