आज से अनलॉक-5 की गाइड लाइन्स जारी, किन-किन चीज़ों की मिली छूट, कौन सी चीज़ पर प्रतिबंध जारी।

नयी दिल्ली: बुधवार को अनलॉक 4 की सीमा समाप्त हो गयी है। ऐसे में उम्मीद लगाई जा रही थी कि गृह मंत्रालय की ओर से अनलॉक 5 की गाइडलाइन का ऐलान कल कर दिया गया है। कोरोना वायरस को रोकने के लिए 24 मार्च से पुरे देश में लॉकडाउन चरणों में लागू होने के बाद जुलाई महीने से चरण दर चरण हटने लगा है।

पुरे देश में आज से अनलॉक-5 गाइड लाइन्स की प्रक्रिया शुरू हो गई है. साथ ही गृह मंत्रालय ने रियायतों की नई सूची भी जारी कर दी है. केंद्र सरकार के मुताबिक देश में 15 अक्टूबर के बाद से सिनेमा हॉल खुलने की इज़ाजत दे दी है. इसके अलावा राज्य सरकार ने 15 अक्टूबर के बाद से स्कूलों को खोलने का फैसला स्थिति को देखते हुए ले सकती हैं.

सिनेमा हॉल
सिनेमा हॉल

थियेटर, मल्टीप्लेक्स और सिनेमा हॉल कंटेनमेंट जोन के बाहर हैं, वह 15 अक्टूबर बाद से खुलेंगे:

सिनेमा,थिएटर,मल्टीप्लेक्स को 15 अक्टूबर से फि‍र से खोलने की अनुमति प्रदान कर दी गयी है, जिनमें दर्शकों के बैठने की क्षमता मात्र 50 प्रतिशत तक होगी. इसके लिए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मानक परिचालन प्रक्रिया जारी की जाएगी.

स्वीमिंग पूल भी 15 अक्टूबर से शुरू हो सकेगें:

खिलाड़ियों के प्रशिक्षण के लिए इस्तेमाल किए जा रहे स्विमिंग पूल को भी फि‍र से खोलने की अनुमति प्रदान कर दी है, इसके लिए मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) युवा कार्य एवं खेल मंत्रालय (एमओवाईएएंडएस) द्वारा जारी की जाएगी.

मनोरंजन पार्क खुलने की भी इजाजत:

मनोरंजन पार्कों और इसी तरह के स्थानों को भी 15 अक्टूबर से फिर से खोलने की अनुमति प्रदान कर दी गयी है, इसके लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय (एमओएचएफडब्‍ल्‍यू) द्वारा एसओपी द्वारानिर्देश जारी किये जायेगे.

बिजनेस टू बिजनेस प्रदर्शनी को मंजूरी प्रदान:

कंपनियों के स्‍तर पर आयोजित होने वाली ‘बिजनेस टू बिजनेस (बी2बी) प्रदर्शनियों’ को भी 15 अक्टूबर से पुन: खोलने की अनुमति प्रदान कर दी गयी है.

स्कूल, कॉलेज
स्कूल, कॉलेज

स्कूल, कॉलेज, शिक्षा संस्थान और कोचिंग संस्थानो को दिशा-निर्देश जारी किया जायेगें:

स्कूलों और कोचिंग संस्थानों को दोबारा से खोलने के लिए राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों की सरकारों को 15 अक्टूबर 2020 के बाद क्रमबद्ध तरीके से एक निर्णय लेने के लिए छूट दी गई है. राज्यों/केंद्र शासित सरकारें स्कूल/संस्थान के प्रबंधन के साथ परामर्श करके निर्णय ले सकेंगी.

अतंरराष्ट्रीय विमान सेवाएं अभी बंद, अगले आदेश का इंतज़ार:

अतंरराष्ट्रीय विमान सेवाएं अगले आदेश तक बंद ही रहेंगी, सिर्फ उन्हीं अतंरराष्ट्रीय विमान सेवाओं को इजाजत होगी जिन्हें गृह मंत्रालय की इजाजत होगी.

यह भी पढ़े:IPL 2020: KKR की जीत के बाद कार्तिक ने राजस्थान के इस खिलाड़ी की जमकर की तारीफ

Related Articles