भारत की अर्थव्यवस्था के फंडामेंटल मजबूत : Arvind Panagariya

नई दिल्ली : हिन्दू की खबर के मुताबिक, नीति आयोग के फॉर्मर वाइस चेयरमैन Arvind Panagariya ने रविवार को एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था के  फंडामेंटल मजबूत हैं, और पिछले फिस्कल ही में ईयर में जीडीपी ने महामारी के पहले वाले स्तर को पार कर लिया है।

Arvind Panagariya मौजूदा वक़्त में कोलंबिया यूनिवर्सिटी में पढ़ाते है अर्थशास्त्र 

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें भारतीय अर्थव्यवस्था ने करेंट फिस्कल ईयर की अप्रैल-जून तिमाही में रिकॉर्ड 20.1 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की है। कोरोना की दूसरी लहर के बावजूद मैन्युफैक्चरिंग और सर्विस सेक्टर ने भी अच्छी बढ़ोतरी दर्ज की है।इस कड़ी में जानकारों का मानना है कि भारत अब इस साल दुनिया की सबसे तेज बढ़ोतरी हासिल करने की राह पर है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने करेंट फिस्कल ईयर के लिए देश की अर्थव्यस्था के वृद्धि दर के अनुमान को 10.5 फीसदी से घटाकर 9.5 फीसदी कर दिया है। वहीं विश्व बैंक ने 2021 में भारत की अर्थव्यस्था को 8.3 फीसदी की दर से बढ़ने का अनुमान जताया है।

हालांकि पीटीआई से बात करते हुए पनगढ़िया ने कहा कि मैं सिर्फ यही कहना चाहूंगा कि हमारे देश के नागरिक अपनी ओर से कोरोना वायरस के बचाव पर पूरी कोशिश करें और किसी के संपर्क में आने पर मास्क पहनें। पनगढ़िया मौजूदा समय में कोलंबिया विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र के प्रोफेसर हैं। उन्होंने कहा कि आम धारणा के उलट भारत में निश्चत रूप से निजी निवेश पहले के मुकाबले बढ़ा है।

यह भी पढ़ें : नवाबों के शहर की लड़कियों के लिए जरूरी खबर, बड़े इमामबाड़े में शॉर्ट स्कर्ट वर्जित

 

Related Articles