बाबा की नगरी काशी में दिखेगी गंगा-जमुनी की तहजीब, गूंजेगा पंचाक्षर स्तोत्र-रुद्राष्टकम और होगी अजान

श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल लोकार्पण करेंगे

श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के ईनॉग्रेशन को लेकर तैयारी पूरी हो चुकी है. कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका ईनॉग्रेशन करेंगे. बता दें श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का लगभग 244 साल बाद रेनोवेशन हुआ है. अब भव्य धाम लोकार्पण के लिए तैयार है. कल होने वाले श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के ईनॉग्रेशन में शिव की काशी एक अलग पहचान पाने जा रही है. इस मौके पर काशी में अलग ही नजारा देखने को मिलेगा, लेकिन जब बात प्रेम और सौहार्द की हो तो भी देवाधिदेव महादेव की नगरी भला कैसे पीछे नहीं रहेगी.

गंगा जमुनी तहजीब की दिखेगी अद्भुत छटा

भव्य और दिव्य काशी में 12, 13, 14 दिसंबर को गंगा जमुनी तहजीब की अद्भुत छटा देखने को मिलेगी, मंदिर परिसर के अलावा पूरे बनारस शहर में शिव पंचाक्षर स्तोत्र के साथ रुद्राष्टकम व अन्य वैदिक मंत्रों से पूरा बनारस भक्तिमय हो उठेगा. वहीं सुबह दोपहर शाम अजान की मधुर आवाज लोगों के कानों तक पहुंचेगी.

भगवान शिव के द्वादश ज्योतिर्लिंग में एक है काशी

भगवान शंकर के त्रिशूल पर बसा काशी आज देश ही नहीं पूरे विश्व में महत्वपूर्ण स्थान रखता है. इसका महत्व इस लिए भी बढ़ जाता है क्योंकि शिव की काशी द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक है. गंगा नदी के किनारे घाटों पर शांत बैठे इतिहासकार यहां के इतिहास पर अपनी पुस्तकों के लिए कहानियां तैयार किया करते हैं. वहीं देवाधिदेव महादेव का स्मरण कर धुनि रमाते शिव भक्त, जिसे संसार से कोई लेना देना नहीं वे भी अपनी धुन में मस्त रहा करते हैं. सभी के लिए यह काशी जीवन के आरंभ से लेकर अंत है. इस काशी की महिमा को और भी दिव्यता और भव्यता मिलते जा रही है.

 

यह भी पढ़ें- पत्नी की कसम लेकर दोस्तों ने पिलाई पति को शराब और फिर…

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles