गंगा नदी-कचला ब्रिज बदायूँ और घाघरा नदी-तुर्तीपार बलिया में खतरे से ऊपर

राहत आयुक्त रणवीर प्रसाद ने कहा कि प्रदेश के वर्तमान में सभी तटबन्ध सुरक्षित हैं, कहीं भी किसी प्रकार की चिन्ताजनक परिस्थिति नहीं है। गत 24 घंटे में प्रदेश में 6.8 मि0मी0 वर्षा हुई है, जो सामान्य वर्षा से 4.5 मि0मी0 के सापेक्ष 151 प्रतिशत है। प्रदेश में 01 जून, 2021 से अब तक 137 मि0मी0 औसत वर्षा हुए, जो सामान्य वर्षा 58.7 के सापेक्ष 234 प्रतिशत है। विगत 24 घंटे में 4560 फूड पैकेट वितरित किये गये। अब तक कुल 9,501 फूड पैकेट वितरित किए गए हैं।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राहत आयुक्त रणवीर प्रसाद ने वर्षा की स्थिति से अवगत कराते हुए बताया कि प्रदेश के वर्तमान में सभी तटबन्ध सुरक्षित हैं, कहीं भी किसी प्रकार की चिन्ताजनक परिस्थिति नहीं है। गत 24 घंटे में प्रदेश में 6.8 मि0मी0 वर्षा हुई है, जो सामान्य वर्षा से 4.5 मि0मी0 के सापेक्ष 151 प्रतिशत है। इस प्रकार प्रदेश में 01 जून, 2021 से अब तक 137 मि0मी0 औसत वर्षा हुए, जो सामान्य वर्षा 58.7 के सापेक्ष 234 प्रतिशत है। प्रदेश के वर्षा से प्रभावित जनपदों मंे सर्च एवं रेस्क्यू हेतु एनडीआरएफ, एसडीआरएफ तथा पीएसी0 की कुल 33 टीमें तैनाती की गयी है, 79 नावें बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लगायी गयी है तथा 69 मेडिकल टीमें लगायी गयी है। NDRF, SDRF द्वारा 152 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया।

राहत आयुक्त रणवीर प्रसाद ने बताया कि विगत 24 घंटे में 4560 फूड पैकेट वितरित किये गये। अब तक कुल 9,501 फूड पैकेट वितरित किए गए हैं। गंगा नदी-कचला ब्रिज बदायूँ में, घाघरा नदी-तुर्तीपार बलिया में खतरे के जलस्तर से ऊपर बह रही है। प्रदेश में 299 बाढ़ शरणालय तथा 372 बाढ़ चैकी स्थापित की गयी है। प्रदेश में विगत 24 घंटों में स्थापित किए गए पशु शिविर की संख्या 08 अब तक कुल 37 पशु शिविर स्थापित किये गये हैं। विगत 24 घंटों में पशु टीकाकरण की संख्या 4799 तथा अब तक कुल पशु टीकाकरण की संख्या 24,784 है।

ये भी पढ़ें :  Reliance की 44वीं AGM मीटिंग में बड़ी घोषणाएं, सऊदी अरामको बोर्ड में शामिल

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles