श्रीलंका के रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं Gautam Adani

नई दिल्ली : अडानी ग्रुप ने हाल ही में श्रीलंका के साथ कोलंबो पोर्ट के वेस्टर्न कंटेनर टर्मिनल को डिवेलप करने और चलाने की डील की थी। अडानी ग्रुप अब श्रीलंका के रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में इनवेस्टमेंट की संभावना तलाश रहा है। ग्रुप के चेयरमैन Gautam Adani ने सोमवार को श्रीलंका के प्रेसिडेंट गोटाबाया राजपक्षे के साथ मीटिंग की थी।

Gautam Adani ने श्रीलंका एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर से मन्नार की यात्रा भी की

हालांकि, इस मीटिंग के बारे में अधिक जानकारी नहीं मिली है। सिलोन इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड के वाइस चेयरमैन, नालिंदा इलानगाकून ने बताया कि अडानी ग्रुप श्रीलंका के रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में इनवेस्टमेंट करना चाहता है। उन्होंने कहा कि अडानी ग्रुप के सीनियर एग्जिक्यूटिव्स ने सोमवार को मन्नार जिले में विंड पावर फार्म देखा था।

इलानगाकून ने बताया कि गौतम अडानी और उनके साथ 10 मेंबर्स के डेलिगेशन ने श्रीलंका एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर से मन्नार की यात्रा की थी। श्रीलंका के बोर्ड ऑफ इनवेस्टमेंट ने बताया कि मन्नार विंड एनर्जी पार्क के दूसरे फेज को बिल्ड, ओन, ऑपरेट एंड ट्रांसफर बेसिस पर इनवेस्टर्स को दिया जाना है। इसकी कैपेसिटी 100 MW की है।

अडानी ग्रुप ने सितंबर में श्रीलंका पोर्ट्स अथॉरिटी के साथ कोलंबो पोर्ट के वेस्टर्न कंटेनर टर्मिनल (WCT) को डिवेलप करने और चलाने के लिए एग्रीमेंट साइन किया था।

यह भी पढ़ें : Mohammed Shami के सपोर्ट में आये बल्लेबाज़ रिजवान

Related Articles