जर्मनी ने दुनिया की पहली driverless train ट्रेन का किया अनावरण

बर्लिन : जर्मन रेल ऑपरेटर डॉयचे बान और औद्योगिक समूह सीमेंस ने सोमवार को हैम्बर्ग शहर में दुनिया की पहलीऑटोमेटिक driverless train ट्रेन का अनावरण किया। इस कड़ी में जानकारों के मुताबिक यह पारंपरिक ट्रेनों की तुलना में अधिक समय की पाबंदी और ऊर्जा कुशल है।

driverless train होने के बावजूद एक ड्राइवर निगरानी के लिए मौजूद रहता है

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें ऐसी चार ट्रेनें उत्तरी शहर के एस-बान रैपिड शहरी रेल नेटवर्क में शामिल होंगी और मौजूदा रेल बुनियादी ढांचे का उपयोग करते हुए दिसंबर से यात्रियों को ले जाना शुरू कर देंगी। यूँ तो पेरिस जैसे महानगरों में भी ऐसी ट्रैन हैं लेकिन खास है क्यूंकि यह आम पटरियों पर ही चलेगी जबकि बाकि ट्रैन के लिए अलग से पटरियां मौजूद हैं। यह परियोजना, हैम्बर्ग की शहरी रेल प्रणाली के 60 मिलियन यूरो ($70 मिलियन) के आधुनिकीकरण का हिस्सा है।

इस कड़ी में  डॉयचे बान के सीईओ रिचर्ड लुट्ज़ ने कहा कि स्वचालित ट्रेनें “एक अधिक विश्वसनीय” सेवा प्रदान करती हैं वह भी बिना नया ट्रैक बिछाए”। उन्होने  कहा, “हम रेल परिवहन को और अधिक बुद्धिमान बना रहे हैं, यह अनुमान लगाते हुए कि स्वचालित ट्रेनें “30 प्रतिशत अधिक यात्रियों को परिवहन कर सकती हैं, समय की पाबंदी में काफी सुधार कर सकती हैं और 30 प्रतिशत से अधिक ऊर्जा बचा सकती हैं”।

इस कड़ी में जानकारों के मुताबिक, हालांकि ट्रेन को डिजिटल तकनीक और पूरी तरह से स्वचालित के माध्यम से नियंत्रित किया जाता है, फिर भी एक ड्राइवर यात्रा की निगरानी के लिए मौजूद रहेगा।

यह भी पढ़ें : निफ़्टी ने छुआ 18000 का ऐतिहासिक स्तर

Related Articles