गिरिराज ने तेजस्वी पर साधा निशाना बोले, ‘बिहार की जनता ने मजाक बनाने वालों का बनाया मजाक’

बिहार चुनाव में गिरिराज सिंह स्टार प्रचारक की भूमिका में थे। बिहार के साथ-साथ गुजरात, कर्नाटक, मध्यप्रदेश, तेलंगाना, मध्यप्रदेश में भी उन्होनें स्टार प्रचारक की भूमिका निभाई।

पटना: बिहार चुनाव के नतीजे आ गए है और एनडीए ने बिहार में इस बार भी अपना दमखम बरकरार रखा। बीजेपी के नेता गिरिराज सिंह ने बिहार में तेजस्वी यादव की हार के बाद उन पर तंज कसते हुए कहा कि जिन लोगों ने फ्री कोरोना वायरस वैक्सीन देने वाले बयान का मजाक उड़ाया था जनता ने आज उनका मजाक बना दिया।

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में बिहार में एनडीए को मिली जीत से खुशी जाहिर करते हुए उन्होनें एनडीए को बधाई दी। बिहार विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 74 सीटें और नीतीश कुमार की पार्टी को 43 सीटें मिली हैं।

दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश संभाले ना करें बिहार की चिंता

बिहार चुनाव में गिरिराज सिंह स्टार प्रचारक की भूमिका में थे। बिहार के साथ-साथ गुजरात, कर्नाटक, मध्यप्रदेश, तेलंगाना, मध्यप्रदेश में भी उन्होनें स्टार प्रचारक की भूमिका निभाई। गिरिराज सिंह ने दिग्विजय सिंह के बयान पर भी कहा कि पहले वो मध्यप्रदेश संभाले उसके बाद वो बिहार के बारे में सोचें। अपने बयान में गिरिराज सिंह ने कहा कि लोकतंत्र में 51 और 49 का अनुपात चलता है और एनडीए ने इसे हासिल किया है।

गिरिराज सिंह ने कोरोना समयकाल के लिए प्रधानमंत्री की तारीफ की

गिरिराज ने प्रधानमंत्री की तारीफ करते हुए कहा कि नरेन्द्र मोदी ने कोरोना समयकाल में सबको एक समान से देखा। किसी भी राज्य में चाहें उनकी सरकार थी या नही उन्होंने सबके साथ एक जैसा ही व्यवहार किया। दिल्ली में कोरोना बढ़ने के बाद गृहमंत्री अमित शाह ने कमान संभाल ली थी। कोविड-19 के समय पूरे देश में कोई भी व्यक्ति भूख से नही मरा।

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के कोरोना के लिए फ्री वैक्सीन देने वाले बयान को कुछ लोगों ने मजाक बना दिया कि परन्तु बिहार की जनता ने उनका ही मजाक बना दिया। अगर वैक्सीन आएगी तो पूरे भारत को दी जाएगी, बिहार को दी जाएगी।

80 से 75 सीट पर पहुंचे तेजस्वी यादव

तेजस्वी यादव पर गिरिराज सिंह ने कहा कि वो एक दिन में 15-16 रैलियां कर रहे थे खुद कौन सा बॉर्नवीटा खाया था। अपने बयान में उन्होने कहा कि बिहार की जनता ने उन्हें जवानी में ही थका हुआ मान लिया है तभी तो उनकी सीट 80 से घटकर 75 पर आ गई।

उन्होनें तो 200 सीटों का दावा किया था पर वो उसके आधे भी नही पहुंच पाए। तेजस्वी यादव को दूसरों को नसीहत देने से पहले खुद को देखना चाहिए। दरअसल अपने एक चुनावी रैली में तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को थका हुआ बताया था।

ये भी पढ़ें : दिग्विजय सिंह ने नीतीश कुमार से की अपील, बिहार में तेजस्वी यादव को दें अपना आशीर्वाद

Related Articles

Back to top button