दुष्कर्म के आरोपी को अदालत ने दी सात साल की सजा,25 हजार रूपये लगा जुर्माना

0

नैनीताल। लगभग 3 साल गुजर जानें के बाद एक बालिका को इंसाफ मिल ही गया। आरोपी को अदालत ने 7 साल की सजा दी है। साथ ही 25 हजार जुर्माने की सजा सुनाई है। मामला 2014 का है जब विजय कुमार नाम का शख्स विकासनगर क्षेत्र में किराये के मकान में रहने आया था।

इस दौरान वहां रह रही नाबालिग पर उसकी नीयत खराब हो गई। हालांकि, छह महीने बाद ही उसने पीड़िता का घर छोड़ दिया, लेकिन वह उसे परेशान करता रहता था। सात सितंबर 2014 को स्कूल जाते समय विजय कुमार ने रास्ते में उसे रोक लिया और बोला कि वह उसे स्कूल छोड़ देगा।मगर विजय उसे स्कूल ले जाने के बजाय देहरादून लेकर आ गया। यहां से बालिका को ट्रेन से गोरखपुर लेकर चला गया। वहां कुछ दिन रहने के बाद विजय बालिका को लेकर पानीपत चला गया। इस दौरान उसने नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया।

कब मिली मिली पुलिस को सफलता

पुलिस ने 16 दिसंबर 2014 को विजय को गिरफ्तार कर बालिका को बरामद कर लिया। सुनवाई के दौरान यह भी सामने आया कि विजय कुमार चार बच्चों का पिता है और मूलरूप से गोरखपुर का रहने वाला है, लेकिन बचपन से ही देहरादून में किराये पर रह रहा है।

अदालत ने विजय को सात साल की कैद और 25 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई है। जुर्माने में से 10 हजार रुपये पीडि़ता को दिए जाएंगे। अर्थदंड अदा न करने पर दोषी को छह माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से दस गवाह पेश हुए, जबकि बचाव पक्ष एक भी गवाह पेश नहीं कर सका।

 

 

 

loading...
शेयर करें