कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए, बाज़ार पर रहेगी निवेशकों की पैनी नजर

इनका असर भी बाजार पर देखा जाएगा। बीते सप्ताह पाँच कारोबारी दिवस में से तीन दिन BSE का Sensex बढ़त में रहा जबकि सोमवार और शुक्रवार को गिरावट देखी गई।

मुंबई: बीते हफ्ते घरेलू शेयर बाजारों में दिग्गज कंपनियों में बिकवाली के बाद आने वाले हफ्ते में निवेशकों की पैनी नजर कोरोना  महामारी की स्थिति एवं उसके कारण लगाये जाने वाले प्रतिबंधों पर रहेगी। इस वक़्त देश में कोरोना संक्रमण पहली लहर की तुलना में काफी तेजी से फैल रहा है। हर दिन डेढ़ लाख से अधिक नये मामले आने शुरू हो गये हैं। जिसका असर बाज़ार पर साफ़ देखने को मिल रहा है।

केंद्र सरकार की तरफ से अभी किसी प्रकार के प्रतिबंध की आदेश जारी नहीं किया गया है। लेकिन कई राज्यों ने अपनी तरफ से स्तिथि को देखते हुए प्रतिबंध लगाये हैं। इससे आर्थिक गतिविधियों के प्रभावित होने की आशंका है जिसे देखते हुये निवेशक बिकवाली बढ़ा सकते हैं। इसके अलावा अगले सप्ताह TCS, Infosys, Wipro और HDFC Bank के सालाना रिज़ल्ट भी आना हैं। इनका असर भी बाजार पर देखा जाएगा। बीते सप्ताह पाँच कारोबारी दिवस में से तीन दिन BSE का Sensex बढ़त में रहा जबकि सोमवार और शुक्रवार को गिरावट देखी गई।

शुक्रवार को अधिक बिकवाली के कारण Sensex अंतत: 438.51 अंक यानी 0.88 प्रतिशत की साप्ताहिक गिरावट के साथ शुक्रवार को 49,591.32 के स्तर बंद हुआ। वहीँ Nifty 32.50 अंक यानी 0.22 प्रतिशत टूटकर सप्ताहांत पर 14,834.85 अंक पर बन दुआ था। दिग्गज कंपनियों के विपरीत निवेशकों ने मझौली और छोटी कंपनियों में पैसा लगाया। बीएसई का मिडकैप 1.20 प्रतिशत चढ़कर 20,762.17 अंक पर और स्मॉलकैप 2.49 फीसदी की साप्ताहिक बढ़त के साथ 21,596.85 अंक पर पहुँच गया था।

यह भी पढ़े: UP टीका उत्सव: इतने उम्र के लोगों को फ्री में Vaccine, सीएम योगी ने किया स्वास्थ्य सेवाओं का निरीक्षण

Related Articles