कृष्णनगरी में दिखी हिन्दू-मुस्लिम एकता की झलक, पंडितों ने पढ़े वेद मंत्र तो मौलवियों ने पढा निकाह

पंडितों ने पढ़े वेद मंत्र तो मौलवियों ने पढ़ा निकाह

मथरा. जहां एक ओर बीजेपी नारा लगा रही है की अयोध्या, काशी और अब मथुरा की बारी है. उसी मथुरा में हिंदू-मुस्लिम एकता देखने को मिली है. जहां मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत कृष्णनगरी मथुरा में कार्यक्रम का आयोजन किया गया. बीएसए इंजीनियरिंग कॉलेज परिसर में हुए इस आयोजन में 118 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे. इस सामूहिक विवाह समारोह की खास बात यह रही कि इन 118 जोड़ों में 112 हिन्दू तो 6 मुस्लिम समाज से थे.

ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा रहे मुख्य अतिथि

मथुरा के बीएसए इंजीनियरिंग कॉलेज में मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना के अंतर्गत मथुरा वृंदावन नगर निगम द्वारा विवाह समारोह का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री कांत शर्मा ने 118 वर वधु को आशीर्वाद दिया और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की. ऊर्जा मंत्री ने बताया कि सरकार का प्रयास है कि जो जरूरत मंद लोग हैं उन तक बिना भेदभाव के मदद पहुँचे.

112 हिन्दू तो 6 मुस्लिम जोड़े एक-दूजे के हुए

सामूहिक विवाह समारोह में हिन्दू मुस्लिम एकता की झलक देखने को मिली. बीएसए इंजीनियरिंग कॉलेज में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में एक ही पंडाल में पंडित जी जहां वेद मंत्रों के बीच 7 फेरे करा रहे थे तो मौलवी निकाह पढ़ा रहे थे. भगवान श्री कृष्ण की नगरी में गंगा जमुनी तहजीब देखकर हर कोई कहने लगा यह प्रेम की नगरी है यहां सब मिलजुल कर रहते हैं. इस कार्यक्रम में 112 हिन्दू जोड़े तो 6 मुस्लिम जोड़े परिणय सूत्र में बंधे.

यह भी पढ़ें- प्रदेशभर में सुनाई जाएगी ‘बम-बम काशी’ की गूंज, बीजेपी ने तैयार किया मेगा प्लान, आप भी जानें

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles