भारत के लिए बड़ी खुशखबरी, रूस (Russia) से भेजी गई मदद पहुंची दिल्ली एयरपोर्ट

नई दिल्ली: भारत में कोरोना संक्रमण अपने चरम पर है। असुविधाओं और मेडिकल फेसिलिटीस की कमी के कारण लगातार लोग अपनी जान गवां रहे है। लेकिन इन सब के बीच एक ख़ुशी भरी खबर आयी है। रूस (Russia) से भेजी गई मेडिकल जरूरतों की पहली खेंप गुरुवार को सुरक्षित भारत पहुंच गए है। गुरुवार सुबह रूस (Russia) से दो फ्लाइट्स ये खेंप लेकर दिल्ली पहुंची है। सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्स एंड कस्टम्स (CBIC) इन दोनों विमानों में आई वस्तुओं का तेजी से क्लियरेंस करने में जुटी है।

Russia से आई मदद को जल्द मिल जाएगा क्लियरेंस

रूस (Russia) द्वारा भेजी गई पहली खेंप में 20 ऑक्सीजन कंसंटेटर, 75 वेंटिलेटर, 150 बेडसाइड मॉनिटर और दवाइयां शामिल है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को समीक्षा बैठक में राजस्व विभाग को ऐसे उपकरणों की निर्बाध और तेज निकासी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया था। इसके बाद राजस्व विभाग ने सीमा शुल्क निकासी से संबंधित मुद्दों के लिए सीमा शुल्क संयुक्त सचिव गौरव मसलदन को नोडल अधिकारी बनाया है। कस्टम्स डिपार्टमेंट से क्लियरेंस मिलने के बाद ये मेडिकल उपयोगी वस्तुएँ उपलब्ध करा दी जाएंगी।

प्रधानमंत्री ने किया धन्यवाद

बीते बुधवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने ट्वीट कर जानकारी दी थी कि, उन्होंने रुसी (Russia) राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) से कोविड-19 से उत्पन्न स्थितियों पर बात की है। उन्होंने बताया कि, मेरे मित्र राष्ट्रपति पुतिन (Vladimir Putin) से आज मेरी अच्छी बातचीत हुई. हमने कोविड-19 से उत्पन्न स्थिति पर चर्चा की और इसके खिलाफ लड़ाई में रूस (Russia) की ओर से दी जा रही मदद और सहयोग के लिए मैंने राष्ट्रपति पुतिन को धन्यवाद किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) देश में तेजी से बढ़ते कोविड-19 संक्रमण को मद्देनजर रखते हुए प्रधानमंत्री मोदी विश्व के कई नेताओं से लगातार फोन पर चर्चा कर रहे हैं। हाल ही में उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से भी देश में बढ़ते सक्रमण को लेकर बातचीत की थी।

ये भी पढ़ें: IPL को लगा बड़ा झटका, खिलाडियों के बाद इन दो अंपायरों ने बीच में छोड़ी लीग

Related Articles

Back to top button