गन्ने की अच्छी पैदावार करने को तमकुही चीनी मिल के अधिशासी निदेशक ने दिए सुझाव

0

गोरखपुर। चीनी पैदावार के लिए यूपी को चीनी का कटोरा कहा जाता है। जी हां ये बात सही भी है क्यों की यूपी में सबसे ज्यादा चीनी मिल है। ऐसे में गन्ने की अच्छी पैदवार के लिए किसान अपनी जी जन से मेहनत करता है। वहीं इस साल गन्ने की अच्छी पैदवार हुई है। लेकिन भारी बारिश ओ देखते हुए फसल के गिरने की संभावना बढ़ गई है। इससे बचाव के लिए कई इंतजामत किये जा रहे हैं। आइये आज हम आपको बता रहे हैं कि अगर आपकी फसल गिर गई है, तो उसे कैसे फिर से बेहतर कर सकते हैं।

शेर सिंह चौहाने

दोहरी बंधाई से फसल होती है अच्छी

जी हां ऐसे फसल के लिए आपको दोहरी बंधाई की जरूरत है। दोहरी बंधाई से पैदावार बीस फीसद तक बढ़ जाता है तथा अगली पेड़ी भी अच्छी होती है। यह बात दी यूनाइटेड प्रो¨वसेज शुगर कंपनी लिमिटेड सेवरही के अधिशासी निदेशक शेर सिंह चौहाने ने दी है। उन्होंने मंगलवार को तमकुही विकास खंड के ग्राम परसौनी में गन्ना बंधाई कार्य का निरीक्षण करने के दौरान कहा। वहीं गन्ना महाप्रबंधक शरद सिंह ने कहा कि इस समय गन्ना के खेत में ग्रासी शूट, मिली बग, पोका बोइंग दिखाई दे रहा है, जिसके प्रकोप से बचाव हेतु मिल में दवा उपलब्ध है।

इअसे प्रभावित किसान दवा का स्प्रे करा सकते हैं। गन्ना प्रबंधक पशुपति नाथ शाही ने कहा कि बंधाई हेतु किसान मिल के गन्ना कार्यालय से संपर्क करें। बताया कि सर्वे प्रर्देशन का कार्य चल रहा है, किसान जांच कर लें और अपनी गन्ना प्रजाति, रकबा, पेड़ी-पौधा से संबंधित त्रुटि को दुरुस्त करा लें। उन्होंने किसानों से अपील की कि गन्ना प्रजाति 235 उकठा रोग से ग्रसित हो गई है। उसकी आपूर्ति के बाद उत्तम प्रजाति का गन्ना ही बोएं।

loading...
शेयर करें