गूगल मैप की गलती से गई युवक की जान, नक्शे से हटाएगा मौत का रास्ता

रूस में गूगल मैप की एक छोटी सी गलती की वजह से 18 साल के एक युवक की मौत हो गई। साइबेरिया में 18 साल के एक युवक ने गूगल मैप से रास्ता खोजा लेकिन उसे नहीं पता था कि वो मौत के रास्ते पर जा रहा है।

साइबेरिया: आप जब रास्ता भटक जाते है तो गूगल मैप के माध्यम से अपने मंजिल तक पहुंच जाते है। लेकिन रूस से एक ऐसा मामला सामने आया है कि जिसे जान कर आप हैरान हो जाएंगे। रूस में गूगल मैप की एक छोटी सी गलती की वजह से 18 साल के एक युवक की मौत हो गई। साइबेरिया में 18 साल के एक युवक ने गूगल मैप से रास्ता खोजा लेकिन उसे नहीं पता था कि वो मौत के रास्ते पर जा रहा है। ये युवक याकुत्सक एवं मेगाडन शहर के बीच की एक सड़क पर पहुंचा और यहां रात में -50 डिग्री तापमान में फंस कर उसकी मौत हो गई। वही भीषण ठंड के कारण उसका दोस्त शीतदंश का शिकार हो गया था।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक दोनों दोस्त सर्गे उस्तीनोव और वाल्दीस्लाव इस्तोमिन साइबेरिया के पोर्ट ऑफ मैगेडन जा रहे थे। उन दोनों रास्ता नहीं पता था, भटक गए थे इस कारण उन्होंने गूगल मैप्स की मदद ली। गूगल मैप से निर्धारित मार्ग अचानक बदल गया जिसके बाद दोनों किशोर इस रास्ते में भटक गए थे। दोनों की कार ठंड के रास्ते पर रुक गई और वह कार के अंदर खुद को गर्म नहीं रख सके। रात में -50 डिग्री तापमान में दोनों सड़क पर कई दिनों तक फंसे रहे थे। सर्दी की वजह से एक युवक की जमने से मौत हो गई।

ये भी पढ़ें : दहेज न मिलने पर विवाहिता की गला दबाकर हत्या

इस सड़क को गूगल मैप हटाएगा अपने सिस्टम से

जबकि दूसरे युवक सर्गे का शरीर पत्थर की तरह जमा हुआ मिला। वह जिंदा जरूर है लेकिन वह भी काफी बुरी हालत में है। डॉक्टर्स ने बताया कि सर्गे की मौत हाइपरथेमिया की वजह से हुई। अब गूगल मैप ने इस सड़क को अपने सिस्टम से हटाने का निर्णय लिया है ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोका जा सके। जिस सड़क में यह हादसा हुआ है उसका बदनाम इतिहास रहा है जिसके कारण इसे ‘हड्डियों की सड़क’ के नाम से जाना जाता है।

 

Related Articles

Back to top button