Google ने तालिबान के डर से अफगान सरकार के ईमेल अकाउंट्स किये बंद

कैलिफ़ोर्निया : Google ने अफगानिस्तान सरकार  के कुछ ईमेल अकाउंट्स को अस्थाई तौर पर बंद कर दिया है। इस कड़ी में बताया जा रहा है कि गूगल ने यह कदम अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद पिछले अधिकारियों और अंतरराष्ट्रीय साझेदारों द्वारा छोड़े गए दस्तावेजों के लीक होने के डर से उठाया है।

तालिबान से इनफार्मेशन छुपाने के लिए उठाया यह कदम : Google

इस कड़ी में गूगल ने एक बयान जारी कर कहा कि हम अफगानिस्तान की स्थिति का लगातार आकलन कर रहे हैं और कुछ अकाउंट्स को सुरक्षित रखने के लिए इन्हें अस्थायी रूप से बंद कर रहे हैं। इस मामले में रॉयटर के मुताबिक अकाउंट्स को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है, क्योंकि इस जानकारी का इस्तेमाल पूर्व सरकारी अधिकारियों को ट्रैक करने के लिए किया जा सकता है जिससे लोगों को काफी नुकसान होगा।

इस कड़ी में अफ़ग़ान सरकार के  एक कर्मचारी ने रॉयटर को बताया कि तालिबान अधिकारियों के ईमेल हासिल करने की कोशिश कर रहा है। अगस्त के आखिर में कर्मचारी ने बताया था कि तालिबान ने उससे उस मंत्रालय के सर्वर पर रखे डेटा को संरक्षित रखने के लिए कहा था, जहां वह काम करता था। कर्मचारी ने कहा कि अगर ऐसा हुआ तो तालिबान को पिछले मंत्रालय के नेतृत्व के डेटा और आधिकारिक संचार की जानकारी मिल जाएगी। कर्मचारी ने आगे बताया कि उसने तालिबान की बात नहीं मानी और तब से ही छिप गया।

यह भी पढ़ें : Amrullah Saleh ने अफगानिस्तान छोड़कर भागने के खबरों को किया खारिज

Related Articles