सरकार (Government) और जनप्रतिनिधियों ने नहीं सुनी, श्रमदान से आरंभ किया सड़क निर्माण

बड़वानी: मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के राजपुर विधानसभा (Assembly) क्षेत्र के लिम्बई ग्राम पंचायत के नागरिकों ने जनप्रतिनिधियों के आश्वासनो के बावजूद सड़क निर्माण (Road Construction) नहीं होने से परेशान होकर चंदा एकत्रित कर श्रमदान से इसे बनाने का फैसला लिया है।

जिले के राजपुर विधानसभा (Assembly) क्षेत्र के लिम्बई ग्राम पंचायत के उमराव सिंह रोमड़े ने बताया कि लिम्बई और जामनिया के मध्य करीब ढाई किलोमीटर मार्ग खराब हो जाने के चलते विगत 5 वर्षों से ग्रामीण त्रस्त हैं और इसके निर्माण की लगातार मांग कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि गर्भवती महिलाओं को अस्पताल ले जाने के लिए दो बार जननी एक्सप्रेस मुख्य मार्ग तक तो आ गई लेकिन खराब सड़क के चलते आगे जाने के लिए चालक ने इंकार कर दिया। ऐसी स्थिति में गर्भवती महिला को तकलीफ भरे रास्ते से दुपहिया वाहन के माध्यम से जननी एक्सप्रेस तक ले जाना पड़ा।

मार्च 2020 में सड़क का भूमि पूजन भी क्या जा चूका था’

उन्होंने बताया कि क्षेत्रीय विधायक तथा पूर्व गृहमंत्री बाला बच्चन ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया था कि 2019 के बजट में इसका प्रावधान कर निर्माण करवा दिया जाएगा और मार्च 2020 में भूमि पूजन भी हो जाएगा, किंतु लॉकडाउन के चलते संभव नहीं हो पाया।

गांव वालों ने पैसे इक्क्ठा कर आरंभ किया सड़क निर्माण

उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय सांसद गजेंद्र पटेल से भी मुलाकात हुई किंतु परेशानी का अंत नहीं होने पर ग्रामीणों ने एक बैठक कर 500-500 रुपए की राशि एकत्रित की और कल से सभी आयु वर्ग के लोगों ने श्रमदान के माध्यम से सड़क निर्माण आरंभ कर दिया है।

क्षेत्रीय राज्यसभा सांसद सुमेर सिंह सोलंकी ने कहा कि आज मामला संज्ञान में आने पर वे जिला कलेक्टर व जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को सरकारी व्यवस्था के तहत बेहतर सड़क बनवाने का निर्देश दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय विधायक बाला बच्चन लगातार क्षेत्र से चुने जाते रहे हैं, और आश्चर्य है कि उन्होंने ग्रामीणों की इस मूलभूत समस्या पर ध्यान नहीं दिया।

यह भी पढ़ें:

Related Articles

Back to top button