IPL
IPL

सरकार कर रही है Digital Currency लाने की तैयारी,Bitcoin पर लगेगा बैन

बजट सत्र में क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबंध से संबंधित एक विधेयक को संसद के पटल पर सूचीबद्ध किया गया है। यानी सरकार इसी सत्र में इस विधेयक को पारित कर हमेशा के लिए बिटकॉइन को प्रतिबंधित कर देगी।

नई दिल्ली: अगर आप भी डिजिटल करेंसी बिटकॉइन का इस्तेमाल करते हैं तो आपके लिए एक बुरी खबर है।  सरकार जल्द ही बिटकॉइन पर रोक लगा सकती है। दरअसल बजट सत्र में क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबंध से संबंधित एक विधेयक को संसद के पटल पर सूचीबद्ध किया गया है। यानी सरकार इसी सत्र में इस विधेयक को पारित कर हमेशा के लिए बिटकॉइन को प्रतिबंधित कर देगी। इस क्रिपटोकरेंसी को बंद करने के बाद सरकार रुपए की डिजिटल करेंसी लाने की तैयारी कर रही है।

केंद्र सरकार ने बजट सत्र में एक बिल लिस्ट किया है जिसमें क्रिप्टोकरेंसी जैसे अन्य को प्रतिबंधित करने की बात लिखी है।  वहीं केंद्रीय बैंक की बुकलेट में कहा गया है कि बिटकॉइन जैसी निजी डिजिटल मुद्राओं ने हाल के वर्षों में लोकप्रियता हासिल की है। भारत में रेगुलेटरों और सरकारों ने इन मुद्राओं के बारे में संदेह किया है और इससे उत्पन्न जोखिमों के बारे में आशंकित हैं। फिर भी, आरबीआई इनकी संभावना के बारे में पता लगा रहा है।

जानिए क्या होता है बिटकॉइन –

सतोशी नकामोति ने साल 2008 में बिटकाइन की शुरुआत की थी। इसे साल 2009 में पहली बार ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के रूप में जारी किया गया था। इसको कोई बैंक या सरकार कंट्रोल नहीं करती है। इससे कोई भी सामान खरीदा जा सकता है।

यह भी पढ़ें: Mahatma Gandhi’s 73rd Death Anniversary: नाथूराम गोडसे ने क्यों मारी थी बापू को गोली?

बता दें कि क्रिप्टो का मतलब ऐसी चीज़ जो रियल न हो। क्रिप्टो करेंसी एक ऐसी मुद्रा है जो कंप्यूटर एल्गोरिद्म पर बनी होती है। यह सिर्फ इंटरनेट और कंप्यूटर पर उपलब्ध होती है। यह एक स्वतंत्र मुद्रा है, जिसका कोई मालिक नहीं होता।

यह भी पढ़ें: आगरा हाईवे पर दर्दनाक सड़क हादसा, इतने लोगों की मौत, 25 से ज्यादा घायल

Related Articles

Back to top button