भारत आने वाले foreign travelers के लिए सरकार ने जारी की संशोधित गाइडलाइंस

नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने देश में आने वाले foreign travelers के लिए बुधवार को संशोधित गाइडलाइंस जारी कर दी है। यह गाइडलाइंस 25 अक्टूबर से लागू होंगी। सभी विदेशी यात्रियों को यात्रा से पहले एयर सुविधा पोर्टल पर सेल्फ डिक्लेयरेशन जमा करना होगा। इसके साथ उन्हें कोरोना के टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट भी देनी होगी।

foreign travelers को एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद कोरोना का टेस्ट कराना होगा

जो देश रिस्क वाली कैटेगरी में नहीं हैं उनके यात्रियों को पहुंचने के बादअपनी हेल्थ की चौदह दिनों तक खुद निगरानी करनी होगी। गाइडलाइंस में कहा गया है कि जिन देशों ने डब्ल्यूएचओ से मजूरी वाली कोरोना की वैक्सीन को मान्यता दी है, उनके यात्रियों को क्वारनटाइन नहीं होना पड़ेगा।

वैक्सीन की एक डोज लेने वाले वाले या कोई डोज नहीं लेने वाले यात्रियों को एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद कोरोना का टेस्ट कराना होगा। इसके साथ ही उन्हें सात दिनों के लिए घर पर क्वारनटाइन रहना होगा और आठवें दिन दोबारा टेस्ट कराना होगा। अगर इसका रिजल्ट नेगेटिव होता है तो उन्हें अगले सात दिनों के लिए अपनी हेल्थ की खुद निगरानी करनी होगी।

रिस्क वाले देशों से आने वाले यात्रियों को एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद कोरोना का टेस्ट कराना होगा और सात दिनों के लिए घर पर क्वारनटाइन रहना होगा। उन्हें आठवें दिन दोबारा टेस्ट करवाना होगा और रिजल्ट नेगेटिव रहने पर अपनी हेल्थ की अगले सात दिनों तक खुद निगरानी करनी होगी। ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड और जिम्बाब्वे रिस्क वाले देशों में शामिल हैं।

यह भी पढ़ें : IMF की चीफ इकोनॉमिस्ट गीता गोपीनाथ ने की Harvard University लौटने की तैयारी

Related Articles