कंप्यूटर बाबा के नेटवर्क से आजाद हुई सरकारी जमीन, राजनीतिक चर्चाओं में बाबा का वायरस

कंप्यूटर बाबा के नेटवर्क से आजाद हुई सरकारी की जमीन, राजनीतिक चर्चाओं में बाबा का वायरस

इंदौर: मध्यप्रदेश के इंदौर में कंप्यूटर बाबा के नाम से प्रसिद्ध नामदेव दास त्यागी के अवैध आश्रम को जमींदोज किये जाने के एक दिन बाद आज सुबह प्रशासन ने उनके कब्जे से शासकीय जमीन मुक्त कराने का अभियान सिलसिलेवार जारी कर आश्रम ढहा दिया।

अम्बिकापुरी में कार्रवाई

आधिकारिक जानकारी के अनुसार दल-बल के साथ यहां सुपर कॉरिडोर स्थित योजना क्रमांक 151, अम्बिकापुरी में कार्रवाई प्रारंभ की गयी। प्रशासन ने योजना क्रमांक 151 की 20 हजार वर्गफीट बेशकीमती भूमि को रिक्त करा लिया है। वहीं अम्बिकापुरी में भी कार्रवाई की गयी।

अतिक्रमण मुक्त जमीन

इससे पहले कल यहां प्रशासन ने 40 एकड़ से ज्यादा क्षेत्र में फैली जमीन को अतिक्रमण से मुक्त कराया। इस कार्रवाई के दौरान प्रशासन को बाबा के कई बैंक खाते और यहां से विलासिता की कई वस्तुएं मिली हैं। इस मामले में भी पृथक से जांच की जा रही है।

राजनीतिक चर्चाओं में कम्प्यूटर बाबा

कम्प्यूटर बाबा पिछले कुछ सालों से राजनितिक गतिविधियों के कारण चर्चा में रहे हैं। वे जहां तत्कालीन भाजपा सरकार से भी जुड़े रहे, तो बाद में कांग्रेस से जुड़ गए। पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार में भी वे राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त थे। वे राज्य में 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव में कांग्रेस के स्टार प्रचारक थे।

यह भी पढ़े:राजा सलमान और प्रिंस ने बिडेन को दी बधाई, अमेरिका-सऊदी रिलेशन पर जोर

यह भी पढ़े:बिहार चुनाव: महिला वोटरों ने मारी बाजी, तीसरे चरण में 60 प्रतिशत वोट

Related Articles

Back to top button