धार्मिक ग्रंथों को लेकर सरकार का सख्त कदम, छेड़छाड़ करने पर होगी उम्रकैद!

0

नई दिल्ली। इन दिनों पंजाब की कांग्रेस सरकार ने धार्मिक ग्रंथों को लेकर कमर कस ली है। नए कानूनों को बनाने की तैयारी कर रही सरकार ने कुछ सख्त आदेश भी पारित किए हैं। सरकार के मुताबिक आगामी समय में जो कोई भी धार्मिक ग्रंथों से छेडछाड़ करेगा उस पर कड़ी कार्रवाई करते हुए उम्रकैद की सज़ा सुनाई जाएगी। इस आदेश को लागू करने के लिए सरकार संशोधन बिल का ड्राफ्ट तैयार कर रही है। कहा जा रहा है इस कानून को जल्द ही लागू कर दिया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक कुछ ऐसा ही बिल साल 2016 में पास हुआ था। जिसे केंद्र सरकार ने पंजाब विधानसभा से पास हुए इस बिल को लौटा दिया था। इस बिल के अंतर्गत सिखों के सर्वोच्च धार्मिक ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब से छेड़छाड़ करने पर 3 साल की सज़ा की मांग की गई थी।

मामले पर पंजाब सरकार के वरिष्ठ नेता के बयान के मुताबिक जल्द ही नए बिल को अंतिम रुप दे दिया जाएगा और उसके बाद उसे पंजाब विधानसभा में पेश किया जाएगा। गौरतलब है कि केन्द्र सरकार ने बीते साल जब पंजाब सरकार का यह बिल वापस लौटाया था, तो उसमें सरकार ने इस बात पर भी चिंता जाहिर की थी कि ताजा बिल से इंडियन पीनल कोड (आईपीसी) में असंतुलन पैदा होगा। धार्मिक ग्रन्थों से छेड़छाड़ के दोषी को आजीवन कारावास की सजा को केन्द्र सरकार ने ज्यादा भी बताया था।

loading...
शेयर करें