बिजली बचत के लिए सब कुछ करेगी सरकार

Harish-Rawat-al33140देहरादून। हरीश रावत सरकार बिजली बचत के लिए सब कुछ करने के लिए तैयार है। और तो और एलईडी बल्बों के प्रमोशन के लिए भी एक अभियान सरकार ने छेड़ दिया है। पिछले एक पखवाडे़ में उर्जा विभाग एक लाख एलईडी बेच चुका है।

अगले छह महीने में विभाग ने 55 लाख एलईडी बल्ब बेचने का लक्ष्य रखा है। ऐसा होने पर 140 करोड़ की बिजली बचाई जा सकेगी। उर्जा विभाग सीएम हरीश रावत के पास है और उनकी कोशिश अपने विभाग में बिजली बचत की आदर्श स्थिति सामने रखने की है। कितनी सफलता मिल पाती है, ये देखने वाली बात है, लेकिन सीएम की गुड बुक में आने के लिए अफसर पूरी ताकत जरूर लगाए हुए हैं।

दरअसल, कई बार सार्वजनिक मंचों से सीएम हरीश रावत बिजली बचत के लिए तमाम तरह की बातें कह चुके हैं। तल्खियों में भरकर उन्होंने ये तक कह दिया था कि हम लाइन लाॅस नाम देते हैं, लेकिन ये साफ तौर पर बिजली चोरी होती है। इसे हर हाल में रोकना ही होगा। सीएम हरीश रावत ने लाइन लास को 2020 तक 14 फीसदी पर लाने का लक्ष्य विभाग को दिया है। वर्तमान में ये 18 फीसदी तक आ चुका है।

उर्जा विभाग के प्रमुख सचिव डा उमाकांत पंवार के अनुसार, बिजली बचत के लिए विभाग एक साथ कई मोर्चों पर काम कर रहा है। हमे पूरी उम्मीद है कि लाइन लास को 14 फीसदी पर लाने में तय समय में कामयाबी मिल जाएगी।

बिजली बचत को आएगी खास योजना

बिजली की बचत के लिए सीएम हरीश रावत जल्द ही एक खास योजना को लांच कर सकते हैं। इस योजना के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिली है, लेकिन मीडिया से बातचीत में खुद प्रमुख सचिव उर्जा डा उमाकांत पंवार ने ये बात कही है। उन्होंने कहा कि सीएम बिजली बचत के लिए महाभियान छेड़ने के पक्षधर हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button