सरकार जल्द ही करेगी नेशनल लैंड Monetisation कॉर्पोरेशन का गठन

नई दिल्ली : सेंट्रल पब्लिक सेक्टर के इंटरप्राइजेज की भूमि और नॉन-कोर संपत्तियों के मोनेटाइजेशन को तेजी से ट्रैक करने के लिए सरकार जल्द ही सार्वजनिक उद्यम विभाग के तहत नेशनल लैंड Monetisation कॉर्पोरेशन की स्थापना कर सकती है।

Monetisation कॉर्पोरेशन से सरकारी ज़मीन बेचना होगा आसान

जानकारों के मुताबिक नेशनल लैंड Monetisation कॉर्पोरेशन शत प्रतिशत सरकारी स्वामित्व वाली कंपनी होगी, जिसकी शुरुआती शेयर कैपिटल 5,000 करोड़ रुपये और सब्सक्राइब्ड शेयर कैपिटल 150 करोड़ रुपये से होगी। यह कंपनी एक बोर्ड द्वारा गवर्न होगी जिसमें संबंधित मंत्रालयों के सचिव, रियल इस्टेट क्षेत्र के प्रतिनिधि और निवेश बैंकर शामिल होंगे। इसकी अध्यक्षता एक मुख्य कार्यकारी अधिकारी करेगा जो इसके दिन-प्रतिदिन के कार्यों का प्रबंधन करेगा।

जानकारों के मुताबिक इससे दर्जनों पीएसयू कंपनियों की जमीन बेचने की प्रक्रिया में तेजी आएगी। खबर है इसके लिए एक कैबिनेट नोट तैयार किया गया है और इस प्रस्ताव को जल्द ही कैबिनेट की मंजूरी मिलने की संभावना है। इसके बाद यह एजेंसी पर निर्भर करेगा कि वह संपत्ति को लीज पर दे, किराए पर दे या बेच दे। सूत्रों के मुताबिक NLMC वाणिज्यिक या आवासीय उद्देश्यों के लिए संपत्ति का निवेश और विकास भी कर सकती है और किराये या बिक्री करके पैसे जुटा सकती है।

यह भी पढ़ें : भारत बेमिसाल, बनाई नई मिसाइल, ‘आकाश प्राइम’ का सफलतापूर्वक परीक्षण, देखें वीडियो

Related Articles