राज्यपाल Bhagat Singh Koshyari को सरकारी विमान से उतारा गया, जानिये क्यों?

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और महा विकास अघाडी सरकार के संबंध बिगड़ गए हैं। मामला इतना बढ़ गया है कि महाराष्ट्र सरकार ने गवर्नर को सरकारी विमान इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं दी। लगभग आधे घंटे तक राज्यपाल सामान्य प्रशासन विभाग के संपर्क में थे, लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद राज्यपाल कोश्यारी को सरकारी जहाज से नीचे उतरना पड़ा। बता दें कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को मसूरी में IAS अकैडमी में होने वाले कार्यक्रम में भाग लेना था।

बता दें कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी सरकारी विमान से उत्तराखंड जाना चाह रहे थे। जिसके लिए वह एयरपोर्ट पहुंचे और सरकारी विमान में जाकर बैठ गए। लेकिन विमान विभाग को इस बारे में इजाजत ही नहीं दी गई। बता दें कि ये इजाजत मुख्यमंत्री के अंतगर्त आने वाले सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा दी जाती है। लेकिन विभाग की ओर कोई जानकारी नहीं दी गई। जिसके बाद राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को विमान से नीचे उतरना पड़ा।

प्राइवेट विमान से गए कोश्यारी

महाराष्ट्र के राज्यपाल को जब इजाजत नहीं मिली तो वह विमान से उतरकर VIP जोन में बैठे गए। वह करीब आधे घंटे तक VIP जो में बैठकर इंतजार करते रहे। लेकिन तब भी इजाजत ना मिलने के कारण उन्होंने फैसला लिया कि वह सरकारी विमान का इस्तेमाल नहीं करेंगे बल्कि वह प्राइवेट विमान का इस्तेमाल करेंगे। जिसके बाद उन्होंने प्राइवेट विमान स्पाइसजेट में टिकट कराकर देहरादून के लिए उड़ान भरी।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड ग्लेशियर त्रासदी Update: ‘प्रकृति को न समझने की भूल’, ऋषिगंगा नदी का जलस्तर बढ़ा

Related Articles

Back to top button