गोंडा: घर में शौचालय नहीं तो वेतन भी नहीं

toilets

गोण्डा(उत्तर प्रदेश)। प्रदेश के गोंडा जिले में अपने घर में शौचालय ना बनवाने वाले सरकारी कर्मचारियों के लिए नए साल पर बुरी खबर है। गोंडा के डीएम अजय उपाध्याय ने एक आदेश दिया है।

डीएम का आदेश
गोंडा के डीएम अजय उपाध्याय ने आदेश दिया है कि जिन सरकारी कर्मचारियों के घर पर शौचालय नहीं है तो उन्हें अगले महीने से तनख्‍वाह भी नहीं मिलेगी। जिलाधिकारी ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत उन्होंने सबसे पहले सरकारी कर्मचारियों से अपने यहां शौचालय बनवाने को कहा है।

सभी कर्मियों को प्रमाण-पत्र के बाद ही मिलेगा वेतन
उन्होंने कहा कि अब सभी सरकारी कर्मचारियों तथा राजकोष से वेतन पाने वाले कर्मियों को अपने घर में शौचालय होने और उनके इस्तेमाल का प्रमाण-पत्र लेने के बाद ही वेतन भुगतान करने के आदेश दिये हैं। यह प्रमाणपत्र उस विभाग से सम्बन्धित कार्यालयाध्यक्ष द्वारा जारी किया जाएगा।

सख्ती से लागू होगा नियम
जिलाधिकारी ने कहा कि अपने घर में बिना शौचालय बनवाये किसी भी सरकारी अधिकारी और कर्मचारी को अगले महीने से तनख्वाह नहीं मिलेगी। उन्होंने कहा कि घरों में शौचालय बनवाने के लिये लोगों में बढ़ती जागरूकता के कारण तरबगंज तहसील के खानपुर जैसे अति पिछड़े गांव को खुले में शौच से मुक्त बनाया जा सका है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button