महागठबंधन बेहद कम अंतर से सत्ता में आने से चूक गई: कांग्रेस

कांग्रेस ने बिहार विधानसभा चुनाव परिणामों को निराशाजनक बताते हुए कहा है कि पार्टी हार को स्वीकार करती है और कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) में इसकी समीक्षा की जाएगी।

नई दिल्ली: कांग्रेस ने बिहार विधानसभा चुनाव परिणामों को निराशाजनक बताते हुए कहा है कि पार्टी हार को स्वीकार करती है और कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) में इसकी समीक्षा की जाएगी।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम तथा जयराम रमेश ने गुरुवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में एक सवाल के जवाब में कहा कि बिहार के चुनाव परिणाम में जनता ने जो जनादेश दिया है पार्टी उसको स्वीकार करती है। लेकिन यह स्थिति कैसे आयी इस बारे में पार्टी की सर्वोच्च नीति निर्धारक संस्था सीडब्ल्यूसी में इसकी समीक्षा की जाएगी।

उन्होंने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव में वोट का अंतर बहुत कम 0.3 प्रतिशत है। इसका मतलब यह है कि जनता बदलाव चाहती थी लेकिन सीटों के हिसाब से महागठबंधन पिछड़ गया और इस मामूली अंतर से वहां सत्ता में बदलाव नहीं हो सका।

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के परिणाम जो भी रहे हो लेकिन बिहार देश का सबसे गरीब प्रांत है। यह स्थिति तब है जब पिछले छह साल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केंद्र में हैं और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लंबे समय से बिहार की बागडोर संभाले हुए हैं।

यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री मोदी ने म्यामां के आम चुनाव में जीत के लिए सू ची को बधाई दी

यह भी पढ़ें- 685 करोड़ रुपये के फर्जी चालान का लाभ उठाने वाली कंपनी का भंडाफोड़

Related Articles

Back to top button