नार्वे: प्रोटोकॉल तोड़ ग्रर्लफ्रेंड को विदेश घुमाना मंत्री को पड़ा मंहगा, देना पड़ा इस्तीफा

ओस्लो: नॉर्वे के मत्स्यपालन मंत्री को सेंडबर्ग (58) को प्रोटोकॉल तोड़ गर्लफ्रैंड को घूमाना उस वक्त मंहगा पड़ा गया, जब लोगों ने उनकी इस हरकत पर विवाद शुरु कर दिया। यही नहीं विवाद इस कदर बढ़ गया कि कि मंत्री को इस्तीफा देना पड़ा है।

क्या था पूरा मामला?

दरअसल, सेंडबर्ग पूर्व मिस ईरान और गर्लफ्रेंड बहारीह लेटनेस (28) के साथ जुलाई में छुट्टियां मनाने ईरान गए थे। इस दौरान उन्होंने सुरक्षा प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया था। सेंडबर्ग ने छुट्टियों को लेकर प्रधानमंत्री कार्यालय में सूचना भी नहीं दी थी। वे अपना सरकारी मोबाइल फोन साथ ले गए थे। इसको लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों उनकी आलोचना कर रहे थे।

नार्वे ईरान को मानता है जासूस देश

दरअसल, नॉर्वे की इंटेलिजेंस एजेंसी चीन और रूस के अलावा ईरान को भी जासूसी कराने वाले देशों की सूची में शामिल करती रही है। आपको बता दें कि नार्वे में प्रोग्रेस पार्टी ने कंजरवेटिव और लिबरल्स के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। प्रोग्रेस पार्टी में सेंडबर्ग दूसरे नंबर पर थे।

पीएम सोलबर्ग ने जताई नाराजगी

नॉर्वे की प्रधानमंत्री अरना सोलबर्ग ने कहा, “सेंडबर्ग को इस्तीफा देने के लिए कहा गया था। मुझे लगता है कि ये सही फैसला था। वे एक जिम्मेदार पद पर थे, इसके बावजूद उन्होंने सुरक्षा के मुद्दे पर समझदारी नहीं दिखाई।

Related Articles