ग्रीन क्रेकर और डिजिटल/लेजर तकनीक से होगा यूपी में दिवाली सेलिब्रेशन

एन.जी.टी का आदेश, यूपी में दिवाली सेलिब्रेशन होगा ग्रीन क्रेकर, डिजिटल/लेजर तकनीक से

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार ने आतिशबाजी (फायर क्रेकर्स) के बिक्री एवं प्रयोग के सम्बन्ध में एन.जी.टी न्यायालय, नई दिल्ली के पारित आदेशों के पालन कराने के निर्देश देते हुए कहा कि दीपावली पर्व को मनाने के लिये ग्रीन क्रेकर व डिजिटल/लेजर आदि की नई तकनीक के प्रयोग को आमजन में प्रोत्साहित किया जाये।

जिलों में आतिशबाजी की बिक्री

मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने बताया कि एन.जी.टी. न्यायालय द्वारा उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर (एनसीआर), आगरा, वाराणसी, मेरठ (एनसीआर), हापुड़ (एनसीआर), गाजियाबाद (एनसीआर), कानपुर, लखनऊ, मुरादाबाद, नोएडा (एनसीआर), ग्रेटर नोएडा (एनसीआर), बागपत (एनसीआर) व बुलन्दशहर (एनसीआर) जिलों में ए.क्यू.आई. की स्थिति खराब दर्शायी गई है। इन जिलों में आतिशबाजी की बिक्री व प्रयोग पर एन.जी.टी न्यायालय, नई दिल्ली द्वारा दिये गये आदेशों का तत्काल कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाये।

आदेशों का पालन

मुख्य सचिव ने मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों एवं मण्डलीय व जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को एन.जी.टी न्यायालय, नई दिल्ली के पारित आदेशों के पालन कराने के निर्देश दिये है।

डिजिटल/लेजर तकनीक

उन्होंने कहा कि दीपावली को मनाने के लिये डिजिटल/लेजर आदि की नई तकनीक का प्रयोग किया जाये। मुख्य सचिव ने बताया कि प्रदेश के जिन जिलों में ए.क्यू.आई. माडरेट या उससे बेहतर है, वहां पर केवल ग्रीन क्रेकर्स बेचे जायें। इसके अतिरिक्त अन्य जिलों में दीपावली को मनाने के लिये ग्रीन क्रेकर व डिजिटल/लेजर आदि की नई तकनीक के प्रयोग को आमजन में प्रोत्साहित किया जाये।

यह भी पढ़े:एफडीए ने कोरोना वायरस के उपचार में बामलानिविमब के इस्तेमाल की सहमति दी

यह भी पढ़े:11 नवंबर से श्रधालुओं के लिए खुलेगा मथुरा का प्रसिद्ध प्रेम मंदिर

 

Related Articles

Back to top button