बीजेपी उपाध्यक्ष पर लड़की ने लगाया एडमिशन के बहाने रेप करने का आरोप

नई दिल्ली। आजकल बीजेपी नेताओं पर महिलाओं के साथ बदलुकी करने के आरोप लग रहे हैं। इसी कड़ी में बीजेपी के एक और नेता को इस्तीफा देना पड़ा है। दरअसल एक लड़की ने गुजरात बीजेपी उपाध्यक्ष और पूर्व विधायक जयंती भानुशाली पर रेप का आरोप लगाया है जिसके बाद उन्हें इस्तीफा देना पड़ा है। पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है।

जयंती भानुशाली

आपको बता दें मंगलवार को एक 21 वर्षीय लड़की ने सूरत पुलिस कमिश्नर को उपाध्यक्ष के खिलाफ जाकर लिखित में शिकायत दी। शिकायत को कपोदरा पुलिस स्टेशन ट्रांसफर किया गया है ताकि आगे की जांच की जा सके। अपने चार पन्नो की शिकायत में लड़की ने कहा है कि वह 2017 में भानुशाली के संपर्क में आई थी। उस वक्त वह 12वीं पास करने के बाद एक फैशन डिजाइनिंग कोर्स कराने वाले कॉलेज में एडमिशन की कोशिश कर रही थी।

लड़की का आरोप है कि उपाध्यक्ष ने उससे वडा किया था कि वह उसका एडमिशन अहमदाबाद के किसी भी कॉलेज में एडमिशन दिलवा देंगे। लड़की के मुताबिक इसी को लेकर भानुशाली ने पिछले साल उसे नवंबर में अहमदाबाद बुलाया, जहां से वह उसे कार में गांधीनगर ले जाए गए। शिकायतकर्ता का आरोप है कि कार को एक सुनसान जगह ले जाने के बाद भानुशाली ने उसका रेप किया।

लड़की का कहना है कि नेता ने उससे कहा कि बहुत सी लड़कियां एडमिशन पाने के लिए ऐसा करती हैं। लड़की के मुताबिक, भानुशाली ने एक चाकू ले रखा था और उसका कार में रेप किया। वहीं, बीजेपी नेता के हथियारबंद बॉडीगार्ड और ड्राइवर ने इसका वीडियो बनाया। इसके बाद ब्लैकमेलिंग का सिलसिला जारी हो गया। कई बार उसके साथ रेप किया गया। पीड़िता के मुताबिक, इस साल मार्च में भानुशाली ने उसे फिर अहमदाबाद बुलाया जहां से वह दिल्ली चले गए। जाने से पहले ड्राइवर से कहा कि वह उसे एक होटल छोड़ दे। इसके बाद ड्राइवर ने भी उसका रेप किया।

फिलहाल पुलिस का कहना है कि अभी तक पीडिता पुलिस स्टेशन नहीं आई है। हम जाने की कोशिश कर रहें हैं कि वह अपने आरोप पर कायम है या नहीं। अगर कायम है तो हम आगे की कार्रवाई करेंगे।

वहीँ इस आरोप के सामने आने के बाद बीजेपी के आलाकमान के कहने पर जयंती भानुशाली ने अपना इस्तीफा गुजरात बीजेपी अध्यक्ष जीतू वाघानी को सौंप दिया है उनका कहना है कि उन्हें बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। वहीं, बीजेपी के प्रवक्ता भरत पंड्या ने कहा कि तथ्यों के आधार पर कानून अपना काम करेगी।

 

Related Articles