IPL
IPL

‘प्रधानमंत्री के राज्य से निकला गुजरात मॉडल है तानाशाह मॉडल’

इटावा: दिल्ली सरकार के समाज कल्याण मंत्री राजेंद्र पाल गौतम आम आदमी पार्टी संगठन को मजबूत बनाने के लिए दो दिन दौरे पर इटावा आए हुए हैं। राजेंद्र पाल गौतम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राज्य से निकले गुजरात मॉडल का जिक्र करते हुए केंद्र के अलावा कई राज्य में भारतीय जनता पार्टी सत्ता पर काबिज हो गई है लेकिन असलियत मे यह तानाशाही का मॉडल है। जिसका मकसद विपक्ष की आवाज को दबाना है और इसकी असलियत जनता जान चुकी है।

AAP गुजरात मॉडल की असलियत से कराएगी रूबरू

राजेंद्र पाल गौतम ने कहा कि आम आदमी पार्टी अब हर देशवासी को गुजरात मॉडल की असलियत से रूबरू कराएगी ताकि हर कोई इससे अच्छी तरह से वाकिफ हो सके। उनका कहना है कि उत्तर प्रदेश के लोग एक बेहतर विकल्प चाहते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जिस गुजरात मॉडल की बात करते हैं वह तानाशाही का है जिसमें विपक्ष को बोलने की आजादी नहीं है। जो भी बोलता है उस पर केस बनाओ, बंद करो, ईडी का छापा डालो, इनकम टैक्स का छापा डालो, रासुका लगाओ, यही है गुजरात मॉडल। इस मॉडल में अच्छे स्कूल नहीं हैं, अच्छे अस्पताल भी नहीं हैं तो यह मॉडल फेल हो चुका है।

संगठन को मजबूत बनाने की कोशिश

राजेंद्र पाल का कहना है कि जिला स्तर का संगठन काफी पहले उत्तर प्रदेश में बना हुआ है लेकिन तहसील स्तर के अलावा और अन्य निचले स्तर पर संगठन को बनाने की दिशा में व्यापक स्तर पर काम चल रहा है। सिर्फ इतना ही नहीं एक एक गांव गांव में ही पार्टी के कार्यकर्ता जा करके अपनी मौजूदगी का एहसास आम जनमानस को करा रहे हैं। उनका कहना है कि आम आदमी पार्टी जिला पंचायत के चुनाव में बड़े स्तर पर अपने उम्मीदवारो में उतारने जा रही है जिसका असर आगे आने वाले दिनों में प्रभावी नतीजे के तौर पर नजर आएगा।

सिसौदिया से बदसलूकी पर बोले गौतम

उन्होंने कहा कि राजधानी लखनऊ में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया के साथ किस तरह का व्यवहार किया है वह उत्तर प्रदेश वालो ने तो देखा है ही देश वासियों ने भी देखा है। मनीष सिसोदिया को पहले यूपी के शिक्षा मंत्री ने खुद आमंत्रित किया था उसके बाद राज्य के शिक्षा मंत्री भाग खड़े हुए उन्होंने बहस नही की जब वो एक स्कूल देखने जा रहे थे तो उनको पुलिस ने रास्ते मे रोक दिया गया।

Related Articles

Back to top button