आ गया फैसला, कोर्ट ने बलात्कारी बाबा को सुनाई 10 साल की सज़ा

0

चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को साध्वी रेप केस मामले में दोषी करार दिया गया था। आज कोर्ट ने बाबा राम-रहीम की सज़ा का फैसला सुनाया। कोर्ट ने बलात्कारी बाबा को 10 साल की सज़ा सुनाई है। ये कार्यवाही रोहतक की जेल में हुई। पूरे देश को इस फैसले का इंतेजार था। इसके लिए रोहतक जेल में कोर्ट रूम बनाया गया था। जेल के आसपास किसी भी संदिग्ध को देखते ही गोली मारने के आदेश हैं। हरियाणा और पंजाब में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं।

गुरमीत राम रहीम

पढ़ें, इस मामले की अहम बातें –

  • कोर्ट में 10 साल कैद की सजा मिलते ही राम रहीम फर्श पर बैठकर रोने लगा। राम रहीम ने माफी मांगी पर कोर्ट ने रहम की अर्जी नामंजूर कर दी। गुनाह की सजा के एलान के बादकोर्ट में कुर्सी पकड़ रोने लगा राम रहीम।
  • राम रहीम ने बीमारी का बहाना किया और जेल में ही उसका मेडिकल हुआ।
  • कोर्टरूम से राम रहीम को बाहर निकाला गया है। बताया जा रहा है कि जेलकर्मियों ने राम रहीम को फटकार लगाई है।
  • बचाव पक्ष ने कहा कि राम रहीम समाज सेवी हैं। उन्होंन जन कल्याण के बहुत कार्य किए हैं। इसका संज्ञान लेते हुए नरमी बरती जानी चाहिए।
  • अभियोजन पक्ष ने बलात्कार के दोषी राम रहीम के लिए अधिकतम सजा की मांग की थी।
  • स्पेशल सीबीआई जज जगदीप सिंह ने दोनों पक्षों को 10-10 मिनट बहस के लिए समय दिया था।
  • डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को 15 साल बाद साध्वी रेप केस में सज़ा सुनाई गई है।
  • रेप के गुनाह के लिए रोहतक जेल में ही जज जगदीप सिंह ने गुरमीत राम रहीम सिंह को सजा सुनाई है।
  • बचाव पक्ष ने दोषी राम रहीम की जेल बदलने की मांग की. सुरक्षा का हवाला देते हुए जेल बदलने की बात कही।
  • जज ने गुरमीत राम रहीम पर जुर्माना (50 हजार, 10 हजार और 5 हजार) भी लगाया है।
  • गुरमीत राम रहीम को कोर्ट ने 10 साल की सजा धारा 376, 511 और 506 के तहत हुई सजा।

बहस पूरी होने के बाद जज के सामने रो पड़े राम रहीम। उनसे बोले मुझे माफ कर दीजिए। सजा के ऐलान के बाद उनको जेल के कपड़े पहना दिए जाएंगे। बचाव पक्ष ने कहा कि राम रहीम समाज सेवी हैं। उन्होंन जन कल्याण के बहुत कार्य किए हैं। इसका संज्ञान लेते हुए नरमी बरती जानी चाहिए।

सजा सुनाए जाने से पहले तनाव फैलने के मद्देनजर हरियाणा व पंजाब की सरकारों ने रविवार को मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर 29 अगस्त (मंगलवार) तक के लिए रोक लगा दी। इसके अलावा रोहतक व पंचकूला को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। रोहतक जेल में बने कोर्ट में सीबीआई के वकील और जज पहुंच चुके हैं।

वेस्ट यूपी के कुछ प्रमुख जिलों में हाई अलर्ट घोषित। गाजियाबाद और हापुड़ में स्कूल-कॉलेज बंद। भारी संख्या में पुलिसबल की तैनाती। जिस जेल में बाबा राम रहीम बंद हैं उसके दोनोंतरफ 5 से 10 किलोमीटर के दायरे में किसी को जाने की इजाजत नहीं है। वहीँ बाहर से जाने वाली गाड़ियों की तलाशी ली जा रही है। साथ ही मीडिया कर्मियों के साथ हुई हिंसा को देखते हुए उनके साथ भी सुरक्षाबलों की व्यस्था की गई है।

बता दें रेप केस का फैसला आने के बाद ‘शुक्रवार को डेरा सच्चा सौदा के समर्थकों ने हरियाणा-पंजाब में जमकर हिंसा की थी। हिंसा को लेकर डीजीपी बीएस संधू ने कहा है कि मरने वालों की संख्या 38 पहुंच गई है। इसके चलते आज प्रशासन पूरी तरह अलर्ट था। जेल के आसपास के इलाके में कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए। अर्ध सैनिक बलों की कंपनियां तैनात हैं।

loading...
शेयर करें