हैकर्स ने उड़ाए पुणे के कॉसमोस बैंक से 94 करोड़ रुपये

पुणे: संदिग्ध हैकरों ने यहां से कॉसमोस कॉपरेटिव बैंक से 94.42 करोड़ रुपये उड़ा लिए, जिसे विभिन्न घरेलू और विदेशी बैंकों के खातों में स्थानांतरित कर दिए गए। यह बैंक देश का दूसरा सबसे पुराना और दूसरा सबसे बड़ा कॉपरेटिव बैंक है। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। कॉसमोस बैंक से अधिकारियों द्वारा चतुरश्रंगी पुलिस थाने में लिखवाई गई एफआईआर के अनुसार, बैंक दो बार शनिवार और रविवार को साइबर हमले का शिकार हुआ।

शिकायत में कहा गया है कि पहला हमला 11 अगस्त को अपराह्न् तीन बजे से रात 10 बजे के बीच हुआ, जबकि 13 अगस्त को साइबर हमला सुबह साढ़े ग्यारह बजे के करीब हुआ। इससे बैंक के गणेशखंड मार्ग स्थित मुख्यालय में काम प्रभावित हुआ। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि साइबर हमले के दौरान बैंक के मुख्यालय के सर्वर से हमलावरों ने ग्राहकों के वीसा और रुपे डेबिट कार्ड की जानकारियां भी उड़ा ली।

शुरुआती अनुमानों के मुताबिक, हैकर्स ने 12,000 वीजा कार्ड ट्रांजक्शन के माध्यम से 78 करोड़ रुपये हांगकांग समेत अन्य देशों के बैक खातों में भेज दिए। पुलिस ने बताया कि 2.50 करोड़ रुपये की रकम को 2,849 ट्रांजक्सन के माध्यम से देश के विभिन्न बैंकों के विभिन्न खातों में स्थानांतरित कर दिया गया।

इससे पहले कि बैंक इन हमलों पर कुछ कर पाता। हैकरों ने सोमवार (13 अगस्त) को ताजा हमले में स्विफ्ट ट्रांजैक्शन के माध्यम से 13.92 करोड़ रुपये हांगकांग की हैंगसेंग बैंक के एएलएम ट्रेडिंग लि. के खाते में स्थानांतरित कर दिए और उसके तुरंत बाद उस रकम को खाते से निकाल लिया गया।

Related Articles