हाफिज सईद का साला व मुंबई हमले का मोस्ट वॉन्टेड अब्दुल रहमान मक्की गिरफ्तार

0

वैश्विक स्तर पर हाफिस सईद को आतंकी ठहराने के बाद, अब हाफिस के साले अब्दुल रहमान मक्की पर भी कार्रवाई की जा रही हैं। पाकिस्तान ने मुंबई हमले में मोस्ट वांटेड आतंकी अब्दुल रमहान मक्की को गिरफ्तार किया है। पाकिस्तान ने मक्की को पंजबा प्रांत के गुजरांवाला से गिरफ्तार किया है। बता दें कि मक्की को जमात-उद-दावा, फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन और जैश-ए-मोहम्मद से जुडे 11 संगठनों पर बैन लगने के कुछ दिन बाद ही गिरफ्तार किया गया हैं।

मक्की पर ये कार्रवाई नेशनल एक्सन प्लान के तहत हुई है। इस दौरान जमाद-उद-दावा और जेश-ए-मोहम्मद पर भी कार्रवाई की गई है। एनएपी के तहत जेयूडी और एफआईएफ के स्वामित्व वाली 500 से अधिक संपत्तियां अब तक पंजाब प्रांत में जब्त की जा चुकी हैं। पंजाब गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक पंजाब के 36 जिलों में, जेयूडी और एफआईएफ के स्वामित्व वाले स्कूल, कॉलेज, अस्पताल, डिस्पेंसरी, एम्बुलेंस और स्ट्रीमर बोट को पंजाब सरकार ने अपने कब्जे में लिया है।

मक्की ने गुजरांवाला ने सरकार के प्रतिबंधित संगठनों के खिलाफ भाषण दिया था। मक्की ने अपने भाषण में फाइनेंसियल एक्शन टास्क फॉर्स के दिशानिर्देशों के अनुरूप उठाए गए कदमों की भी आलोचना की। वह जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन के लिए फंड जुटा रहा था। लेकिन फिलहाल मक्की को लाहौर की जेल में रखा गया है।

आपको बता दें, कि मक्की का जमात-उद-दावा पर काफी प्रभाव है। आतंकी संगठन में उसका पद दूसरी कमान के नेता के रूप में जाना जाता है। भारत के खिलाफ भी मक्की ने कई बार जहर उगला है। साल 2010 में मुजफ्फराबाद में मक्की ने भाषण दिया। इसके ठीक 10 दिन बाद जर्मन बेकरी में धमाका हुआ था। इस दौरान इसने देश के 3 शहरों में आतंकी हमला करने की धमकी दी थी। जिसके बाद भारत के कहने पर अमेरिका ने मक्की को आतंकी घोषित किया था।

loading...
शेयर करें