ब्राजील में चीन की कोरोना वैक्सीन के परीक्षण को हरी झंडी, परीक्षण पूरी तरह सुरक्षित

ब्राजील में चीन की कोरोना वैक्सीन के परीक्षण को अनुमति मिली

ब्रासीलिया: ब्राजील में चीन की कोरोना वैक्सीन के परीक्षण को हरी झंडी दे दी गयी है। यह जानकारी ब्राजील के स्वास्थ्य नियंत्रक ने दी। स्वास्थ्य नियंत्रक ने बताया कि हमने चीन की कोरोना वैक्सीन के परीक्षण की अनुमति को प्रदान कर दी है, जिस पर बीते दिनों रोक लगा दिया था।

परीक्षण में वालंटियर की मौत

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार ब्राजील के ‘अनवीसा संस्थान’ ने एक गंभीर घटना का हवाला देते हुए दो दिन पहले वैक्सीन के परीक्षण पर रोक लगा दी थी। जिसमें कोरोना वैक्सीन परीक्षण में एक वालंटियर की मौत हो गयी थी।

परीक्षण की पुख्ता सूचना

संस्थान के प्रमुख ने कहा कि वालंटियर की मौत का वैक्सीन के साथ कोई संबंध नहीं है। उधर संस्थान ने एक बयान में कहा कि अब वैक्सीन के परीक्षण की पुख्ता सूचना है।

वैक्सीन उत्पाद गुणवत्ता

संस्थान के प्रमुख ने कहा, “यह स्पष्ट करना महत्वपूर्ण है कि वैक्सीन के परीक्षण को रोकने का मतलब यह नहीं है कि जांच में वैक्सीन उत्पाद गुणवत्ता, सुरक्षा या प्रभावकारिता सही नहीं पाया गया है।”

राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो का बयान

‘राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो’ ने वैक्सीन के परीक्षण के निलंबन को विजय बताया है, लेकिन अब इसका फिर से परीक्षण शुरू हो गया है। इसलिए यह ‘जायर के नीति’ के खिलाफ है। इस वैक्सीन को चीन की सिनोवैक बायोटेन ने विकसित किया है, जो वैश्विक स्तर पर परीक्षण के अंतिम चरण में हैं।

सुरक्षित परिक्षण

एस्ट्राजेनेका और आक्सफोर्ड ने बताया कि हम इस मामले में और अधिक जानकारी नहीं दे सकते लेकिन यह सही है कि एक निजी जांचकर्ताओं ने ट्रायल को सुरक्षित पाया है। इसी निष्कर्ष के आधार पर ट्रायल फिर से शुरू किए जा रहे हैं। एस्ट्राजेनेका ने बताया कि आक्सफोर्ड की वैक्सीन ‘एजेडडी 1222’ का इंग्लैंड में फिर से ट्रायल शुरू कर दिया गया है। कंपनी ने बताया कि इस ट्रायल में शामिल लोगों की सुरक्षा हमारी सबसे बड़ी चिंता है।

यह भी पढ़े:न्यूयार्क में कर्फ्यू, बंद रहेंगे बार, रेस्तरां और जिम, शादी में 10 लोगों को अनुमति

यह भी पढ़े:म्यांमार में सेना समर्थित विपक्षी दल ने पक्षपात बताते हुए चुनाव परिणाम को नकारा

Related Articles

Back to top button