Haridwar Kumbh: PM मोदी का फरमान- कुंभ को Corona संकट के चलते ‘प्रतीकात्मक’ ही रखा जाए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आचार्य महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी अवधेशानंद गिरि से बोले, 2 शाही स्नान हो चुके है, अब कुंभ को ‘प्रतीकात्मक’ रखा जाए

हरिद्वार: आस्था का सबसे बड़ा पर्व कुंभ मेला (Kumbh Mela) इस बार उत्तराखंड (Uttarakhand) की देव भूमि हरिद्वार (Haridwar) में आयोजित हुआ है। देश के सभी राज्यों के साथ-साथ कुंभ में भी कोरोना कि धीरे-धीरे बढ़ोतरी हो रही है। 16 अप्रैल शुक्रवार के दिन 30 साधु कोरोना पॉजिटिव पाए जानें के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने साधु-संतों से अपील की है कि अब कुंभ को ‘प्रतीकात्मक’ रखा जाए।

PM ने किया फोन

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट करके कहा कि, आचार्य महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी अवधेशानंद गिरि जी से आज फोन पर बात की। सभी संतों के स्वास्थ्य का हाल जाना। मैंने प्रार्थना की है कि दो शाही स्नान हो चुके हैं और अब कुंभ को COVID-19 के संकट के चलते ‘प्रतीकात्मक’ ही रखा जाए। इससे इस संकट से लड़ाई को एक ताकत मिलेगी।

मैंने प्रार्थना की है कि दो शाही स्नान हो चुके हैं और अब कुंभ को कोरोना के संकट के चलते प्रतीकात्मक ही रखा जाए। इससे इस संकट से लड़ाई को एक ताकत मिलेगी।

स्नान के लिए न आएं

PM मोदी से बाचचीत के बाद जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी ने ट्वीट करके बताया कि, माननीय प्रधानमंत्री जी के आह्वान का हम सम्मान करते हैं। जीवन की रक्षा महत पुण्य है। मेरा धर्म परायण जनता से आग्रह है कि कोविड की परिस्थितियों को देखते हुए भारी संख्या में स्नान के लिए न आएं एवं नियमों का निर्वहन करें।

सरकार की गाइडलाइन

उत्तराखंड (Uttarakhand) मुख्य सचिव ने कोरोना वायरस COVID-19 के बढ़ते मामलों के चलते यह ऐलान किया है कि, धार्मिक और सामाजिक समारोहों में अधिकतम 200 लोगों को अनुमति होगी। 50% से अधिक क्षमता के साथ सार्वजनिक परिवहन जैसे बस, ऑटो-रिक्शा आदि नहीं चलेंगे। जिम 50% क्षमता के साथ खुलेंगी। कोचिंग सेंटर, स्विमिंग पूल, स्पा बंद रहेंगे।

यह भी पढ़ेISRO Recruitment 2021: इसरो में नौकरी करने का सुनहरा मौका, बिना परीक्षा के बनेंगे अधिकारी

Related Articles