सेहत के लिए नारियल तेल बना जहर, इस्तेमाल करने से हो सकते हैं इस चीज के शिकार

0

नई दिल्ली। ऐसा माना जाता है कि नारियल के तेल में सैच्युरेटेड फैट की काफी अधिक मात्रा होती है, जो काफी हेल्दी है। तलने-भुनने के लिए भी नारियल के तेल को अच्छा माना जाता साथ ही यह भी कहा जाता है कि नारियल तेल शरीर में उतनी आसानी से नहीं जमता जितना अन्य तेल। इसलिए खाने में इसका इस्तेमाल वजन कम करने के लिए किया जाता है।हालांकि हार्वर्ड के एक प्रोफेसर ने इन सभी दावों को सिरे से खारिज कर दिया है। प्रोफेसर ने कहा कि नारियल का तेल सबसे खराब खाद्य तेल है।  इसमें सैचुरेटेड फैटी एसिड्स होते हैं, जो सेहत को नुकसान पहुंचाते है। इस पर दुनिया भर के हेल्थ एक्सपर्ट्स और डॉक्टरों के बीच एक नई बहस छिड़ गई है।

बता दें कि हार्वर्ड के एक दूसरे प्रोफेसर डॉ. वाल्टर सी विलेट का कहना है कि नारियल तेल फैट्स के मामले में कहीं बीच में आता है। यह हाइड्रोजेनेटेड तेलों की तुलना में तो अच्छा है, लेकिन अनसैचुरेटेड वेजिटेबल ऑयल (जैसे जैतून) से बेहतर नहीं है।

बता दें कि भारत में नारियल के तेल का इस्तेमाल सदियों से किया जा रहा है। बालों की मजबूती के वजह से इसका बड़ा महत्व माना जाता है। इसका इस्तेमाल खाना बनाने के लिए भी करते हैं। आहार व स्वास्थ्य विशेषज्ञ भी नारियल तेल के इस्तेमाल की सलाह देते है।

loading...
शेयर करें