सेक्सुअल हरासमेंट और जबरन ओरल सेक्स के आरोपी हार्वे विंस्टीन कर सकते हैं सरेंडर

न्यूयॉर्क: हॉलीवुड निर्माता हार्वे विंस्टीन एक महिला के साथ दुष्कर्म और दूसरी को उसके साथ जबरन ओरल सेक्स के लिए मजबूर करने के मामले में शुक्रवार को मैनहट्टन पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर सकता है।

कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने यह जानकारी दी। समाचार पत्र ‘द न्यूयॉर्क टाइम्स’ के मुताबिक, विंस्टीन के खिलाफ कई महिलाओं ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। विंस्टीन के मामलों के सामने आने के बाद कई महिलाओं ने हैशटैग मीटू अभियान के जरिए प्रभावशाली व रसूखदार पुरुषों द्वारा यौन उत्पीड़न किए जाने की बात को दुनिया के सामने रखा है।

गिरफ्तारी के पहले विंस्टीन ने खुद से ज्यादा अपने परिवार को लेकर चिंता जताई है। एक सूत्र ने ‘पीपुल डॉट कॉम’ को बताया, “हार्वे (विंस्टीन) मानक कानूनी प्रोटोकॉल का पालन करेंगे और इस बीच वह अपने आत्मसुधार के प्रति ईमानदार हैं और अपने परिवार, दोस्तों और आंतरिक शक्ति पर भरोसा कर रहे हैं।”

सूत्र ने बताया कि विंस्टीन अभी भी हंसी-मजाक कर रहा है और उसे अपने परिवार को लेकर खासतौर से चिंता है। आरोपों की लंबी जांच के बाद मैनहट्टन में जांचकर्ता विंस्टीन (66) को शुक्रवार को गिरफ्तार करने की तैयारी कर रहे हैं।

‘वेराइटी डॉट कॉम’ के मुताबिक, मैनहट्टन जिला अटॉर्नी के कार्यालय द्वारा विंस्टीन को कम से कम एक मामले में जरूर आरोपी बनाए जाने की संभावना है। द न्यूयॉर्क टाइम्स और न्यूयॉर्क डेली न्यूज ने बताया कि मामले में यह आरोप शामिल किया जाएगा कि विंस्टीन ने 2004 में ऑडिशन के दौरान लूसिया इवांस को मौखिक सेक्स करने के लिए मजबूर किया था।

विंस्टीन ने ‘शेक्सपीयर इन लव’, ‘क्राउचिंग टाइगर,हिडन ड्रैगन’ और ‘शैल वी डांस’ जैसी फिल्मों का निर्माण किया है।

Related Articles