क्या पकिस्तान की वजह से हुआ है बिटकॉइन $50000 पार ?

नई दिल्ली : बिटकॉइन की कीमत चार हफ्तों में पहली बार 50000 डॉलर से ज्यादा हो गई है। मार्केट कैप के हिसाब से दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी मंगलवार को 5% बढ़कर 50,312 डॉलर हो गई। क्रिप्टोकरेंसी बीती सात सितंबर को गिर कर 40,596 डॉलर के निचले स्तर पर पहुंच गई थी।

बिटकॉइन 50000 तो दूसरे क्रिप्टो भी बढे

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें दूसरी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतें भी बढ़ी हैं।  बिटकॉइन ने अपने इनफ्लो का थर्ड स्ट्रेट वीक दर्ज किया। इस बीच, इथेरियम प्रोडक्ट और फंडों ने हाल के हफ्तों में बिटकॉइन को मार्केट शेयर देने के बावजूद, कुल 20 मिलियन डॉलर की इनफ्लो का एक और हफ्ते पोस्ट किया। इथेरियम ब्लॉकचैन के लिए टोकन, ईथर में फ्लो, इस साल अब तक 1 बिलियन डॉलर का अमाउंट है।

यह भी पढ़ें : महिला व्यक्तिगत स्वच्छता को प्राथमिकता, छात्राओं को मुफ्त बांटी जाएंगी सैनिटरी नैपकिन

जानकारों के अनुसार, एक दूसरी रिपोर्ट से पता चला है कि भारत, वियतनाम और पाकिस्तान सेंट्रल और दक्षिणी एशिया में क्रिप्टोकरेंसी मार्केट के विस्तार का नेतृत्व करने में मदद कर रहे हैं। आपको बता दें पिछले एक साल में भारत का बाजार 641% बढ़ा है जबकि पाकिस्तान का 711% ।

यह भी पढ़े : नेशनल बुक फेयर लखनऊ मोती महल लॉन में किताबें बोल रही आजादी के संघर्ष की दास्तान

Related Articles