हाथरस कांड: एक हफ्ते में नहीं पूरी हुई SIT की जांच, सरकार ने 10 दिन का दिया वक़्त

एसआईटी
एसआईटी

हाथरस: हाथरस गैंगरेप मामले में एसआईटी (SIT) की जांच 7 दिनों में पूरी नहीं हो पाई है. एसआईटी की टीम अगले दस दिनों तक और जांच करेगी. आज SIT की टीम को जांच कम्पलीट कर रिपोर्ट सौंपनी थी, लेकिन SIT रिपोर्ट नहीं सौंप पाई, जिसके चलते सरकार ने SIT को दस दिन का और वक़्त दे दिया है.

दरअसल बीते 14 सितम्बर को हाथरस के बुलीगढ़ में एक लड़की ने 4 लोगों पर गैंगरेप और जानलेवा हमला करने का आरोप लगाया था, लड़की की इलाज के दौरान मौत हो गई थी, आनन-फानन में प्रशासन ने युवती के शव का अंतिम संस्कार कर दिया. इसके बाद से ही इस मामले में बवाल शुरू हो गया. सरकार और प्रशासन पर सवाल उठने शुरू हो गए.

 

एसआईटी
एसआईटी

प्रदेश की योगी सरकार ने केस की सत्यता का पता लगाने के लिए एसआईटी (SIT) का गठन किया. सरकार ने एसआईटी से एक हफ्ते में इस केस की जांच कर रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा, लेकिन एसआईटी (SIT) एक हफ्ते बीत जाने के बाद भी अभी जांच पूरी नहीं कर पाई है, जिसके चलते सरकार ने एसआईटी (SIT) को जांच के लिए 10 दिन की मोहलत दी है.

SIT जांच टीम में आईएएस अधिकारी भगवान स्वरूप के अलावा डीआईजी चंद्र प्रकाश और आईपीएस पूनम शामिल हैं, एसआईटी पिछले एक हफ्ते में करीब 100 लोगों से पूछताछ कर चुकी है, जिसमें पीड़ित परिवार, आरोपियों, प्रशासन के अधिकारी शामिल है. इस केस में लापरवाही के चलते एसपी समेत पांच पुलिस अधिकारीयों को पहल ही निलंबित किया जा चूका है.

 

ये भी पढ़ें- मोबाइल फोन बनाने के लिए मिली मंजूरी, 5 सालों में बनेंगे 10.5 लाख करोड़ के स्मार्टफोन

Related Articles