संजीव नंदन सहाय की जगह इन्हें मिला बिजली सचिव का पदभार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश कैडर के 1988 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अधिकारी आलोक कुमार को एक बड़ी जिम्मेदारी दी गई है। उन्हें केंद्रीय बिजली सचिव (Secretary of Power) बनाया गया है। आलोक कुमार ने आज सोमवार को केंद्रीय बिजली सचिव (Secretary of Power) का पदभार संभाला है। इस पद पर संजीव नंदन सहाय कार्यभार संभाल रहे थे। 31 जनवरी, 2021 को संजीव नंदन सहाय सेवानिवृत्त हुए, इसके बाद सोमवार के दिन आलोक कुमार ने केंद्रीय बिजली सचिव की कमान संभाली।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आलोक कुमार इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार में औद्योगिक विकास और आईटी तथा इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग में अतिरिक्त मुख्य सचिव पद पर थे। उनके पास केंद्र में सात और यूपी में तीन साल का काम करने का अनुभव है। उनके पास नीति और नियामकीय मामलों का अच्छा अनुभव है। वे परिवहन और बिजली क्षेत्र से जुड़े विभिन्न सार्वजनिक उपक्रमों में मुख्य कार्यपालक अधिकारी भी रहे।

ये भी पढ़ें : सरकार के बजट से शराबियों के उड़े होश, जाम लड़ाना पड़ेगा महंगा

आलोक कुमार कौशल विकास, हस्तशिल्प आधारित कुटीर उद्यमों, प्रशिक्षण कार्यक्रम और नेशनल कैरिअर सर्विस में काम कर चुके है। उन्होंने आईआईटी रुड़की से सिविल इंजीनियरिंग में स्नातक और वित्त में एमबीए की डिग्री हासिल की।

ये भी पढ़ें : किसान संगठनों ने किया ऐलान, 6 फरवरी को करेंगे चक्का जाम

 

 

Related Articles

Back to top button