स्वास्थ्य मंत्री ने कैंसर पीड़ितों पर दिया बेतुका जवाब, कहा- पिछले जन्म के पाप का फल है

0

गुवाहाटी। असम के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा ने हैरान कर देने वाला बयान दिया है। हेमंत ने कहा है कि जिन लोगों की कैंसर या फिर एक्सीडेंट के कारण मौत होती है वो उनके पिछले जन्मों के कर्मों के नतीजा है। स्वास्थ्य मंत्री के इस बयान ने तहलका मच गया है, लोग उनके इस बयान का जमकर विरोध कर रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने ये बात एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही है। टीचरों को नियुक्ति पत्र देने पहुंचे बिस्वा ने कहा था कि भगवान हमें बीमार तब ही करता है जब हमने कोई पाप किया होता है। मैं कई ऐसे युवाओं से मिला हूं जिनको कैंसर हो जाता है या उनका एक्सीडेंट हो जाता है। अगर आप उनके बारे में जानेंगे तो पता लगेगा कि उन्होंने पहले कोई पाप किया होगा। इस जिंदगी में या फिर पिछली जिंदगी में, हो सकता है उसने नहीं उसके परिवार के किसी शख्स ने कुछ गलत किया हो।

जब हेमंत बिस्वा के इस बयान से विवाद पैदा होने लगा और उनसे इसपर सफाई मांगी गई तो उन्होंने कहा, ”हमारे हिन्दू धर्म गीता में लिखा है कि हमें पिछले जन्म की सजा भुगतनी पड़ती है। ये बात मानी हुई है, ये कोई मेरा बयान नहीं है ये बात तो भगवान कृष्ण ने कही है।”

इन टिप्पणियों पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेसी नेता देबब्रत साइकिया ने कहा, ‘‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि स्वास्थ्य मंत्री ने कैंसर के मरीजों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाली टिप्पणियां कीं। उन्होंने यह टिप्पणी सार्वजनिक रूप से की है, मंत्री को इसके लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए।’’

वहीं आम आदमी पार्टी की सदस्य प्रीति शर्मा मेनन ने भी मंत्री के बयान की आलोचना की और उन्हें मुर्ख और एक बुरा व्यक्ति बताया। बता दें, हेमंत बिस्व सरमा की गिनती असम के बड़े कांग्रेस नेताओं में होती थी लेकिन विधानसभा चुनाव ने पहले पाला बदलकर उन्होंने बीजेपी का हाथ थाम लिया।

loading...
शेयर करें